Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Tuesday, April 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलोहरदगा

लोहरदगा पुलिस ने TSPC के हार्डकोर उग्रवादी को चतरा से किया गिरफ्तार

लोहरदगा : जिले के जोबांग थाना पुलिस ने टीएसपीसी उग्रवादी संगठन के हार्डकोर उग्रवादी बालेश्वर गंझू को गिरफ्तार किया है। लोहरदगा पुलिस को इस उग्रवादी की काफी समय से तलाश थी। इसी बीच लोहरदगा के एसपी आर. रामकुमार को गुप्त सूचना मिली कि बालेश्वर गंझू चतरा स्थित अपने घर पर है।

इसी गुप्त सूचना पर एसपी ने लोहरदगा जिले के जोबांग थाना प्रभारी शशि शेखर के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित कर गिरफ्तारी के निर्देश दिये। जोबांग थाना प्रभारी ने एसपी के निर्देश पर सूचना की पुष्टि करते हुए लंबे समय से फरार टीएसपीसी उग्रवादी संगठन के हार्डकोर उग्रवादी बालेश्वर गंझू को उसके घर से गिरफ्तार कर बुधवार को जेल भेज दिया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

जोबांग थाना प्रभारी शशि शेखर ने बताया कि चतरा जिले के कुंदा थाना क्षेत्र के पिंजनी गांव में प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन टीएसपीसी का दस्ता सदस्य बालेश्वर गंझू उर्फ ​​अफजल उर्फ ​​सीता गंझू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पुलिस की इस छापेमारी टीम में अवर निरीक्षक सोनू चौधरी, अवर निरीक्षक गणेश कुमार यादव और सशस्त्र बल शामिल थे।

आपको बता दें कि टीएसपीसी का यह उग्रवादी अक्टूबर 2020 के महीने में लोहरदगा जिले के जोबांग थाना क्षेत्र के जामडीह जंगल में पुलिस के साथ मुठभेड़ में शामिल था। इसके अलावा इस उग्रवादी के खिलाफ जिले में कई मामले दर्ज हैं। जेल भेजने से पहले उसका मेडिकल परीक्षण भी सदर अस्पताल लोहरदगा में किया गया है।