Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडसंथाल परगना

अंकिता को जिंदा जलाने वाले दोषियों को आजीवन कारावास की सजा

Ankita petrol incident judgment

दुमका :दुमका में अंकिता सिंह (17) हत्याकांड के दोनों दोषियों को उम्रकैद की सजा मिली है। प्रथम जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश सह विशेष न्यायाधीश पॉक्सो रमेश चंद्रा की अदालत ने गुरुवार को दोषी शाहरुख हुसैन और मो. नईम अंसारी उर्फ छोटू को आजीवन कारावास की सजा सुनायी। 19 मार्च को कोर्ट ने दोनों आरोपियों को दोषी करार दिया था।

सुनवाई से पहले 3:16 बजे मृतका के पिता, बहन और जीजा कोर्ट पहुंचे। 3:58 बजे सेंट्रल जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये दोनों आरोपियों की पेशी हुई। दुमका कोर्ट में इस मामले में स्पीडी ट्रायल चला। 51 लोगों की गवाही हुई। इसके बाद कोर्ट ने यह फैसला सुनाया है।

गौरतलब है कि 23 अगस्त 2022 को अंकिता दुमका के जरुवाडीह मोहल्ले में अपने घर में सोई हुई थी। इसी दौरान सुबह करीब पांच बजे पड़ोस के शाहरुख हुसैन ने खिड़की से पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। परिजन उसे दुमका के फूलो झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले गये। प्राथमिक इलाज के बाद रिम्स रेफर कर दिया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी थी।

शाहरुख अंकिता को पिछले दो साल से परेशान कर रहा था। अंकिता ने इसकी शिकायत अपने पिता से की थी, लेकिन समाज में बदनामी के डर से उन्होंने आगे कदम नहीं उठाया। इसके बाद जब शाहरुख ज्यादा परेशान करने लगा तो वो पुलिस में शिकायत करने पहुंचे, लेकिन शाहरुख के बड़े भाई ने मांफी मांग ली और कहा कि वो अब ऐसा नहीं करेगा। कुछ दिन शांत रहने के बाद उसकी हरकतें फिर शुरू हो गयीं।

Ankita petrol incident judgment