Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Sunday, April 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरमनिकालातेहार

लावण्या को न्याय दिलाने के लिए ABVP ने मनिका में निकाला कैंडल मार्च

lavanya case latehar abvp

लातेहार : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नगर इकाई मनिका द्वारा लावण्या को न्याय दिलाने के लिए आज मनिका हाई स्कूल में कैंडल मार्च निकाला गया।

इस दौरान लावण्या के न्याय के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया और राष्ट्रीय महासचिव सुश्री निधि त्रिपाठी सहित सभी की रिहाई की मांग की और 32 कार्यकर्ताओं को रिहा करने की मांग की।

मौके पर नगर अध्यक्ष रंजीत कुमार रंजन, नगर उपाध्यक्ष गोविंद पासवान, नगर मंत्री उत्तम कुमार, नगर सह मंत्री अभिषेक कुमार यादव, नगर सह मंत्री अमित कुमार, नीरज पासवान, सदेश तुरी, रितेश कुमार, लव यादव, राहुल यादव, राज भारती समेत कई सदस्य उपस्थित थे।

बता दें की लावण्या के परिवार वालों ने यह दावा किया है कि लावण्या ने मरने से पहले यह बताया था कि उसने केवल इसलिए जहर खाया था क्योंकि उसे ईसाई धर्म अपनाने के लिए मजबूर किया गया था। 17 वर्षीय मृतक छात्रा लावण्या की नानी ने जबरन धर्म परिवर्तन के परिवार के दावे का समर्थन किया है जो उसने अपने मृत्युपूर्व बयान में किया था। लावण्या की नानी मंगयारकरसी ने खुलासा किया है कि लावन्या ने कोयंबटूर के एक अस्पताल में भर्ती होने के दौरान अपने चाचा के सामने कबूल किया था कि उसने केवल इसलिए जहर खाया था क्योंकि उसे ईसाई धर्म अपनाने के लिए मजबूर किया गया था।

lavanya case latehar abvp


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *