Breaking :
||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे||रांची: TSPC के उग्रवादियों ने एक डीजी समेत पांच वाहनों को फूंका||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में एक बाइक सवार की मौत, दो अन्य घायल||अपहृत डॉक्टर सकुशल बरामद, डालटनगंज में किराये का मकान लेकर छिपा रखे थे अपहरणकर्ता, तीन गिरफ्तार||रांची में पचास हजार का इनामी माओवादी हथियार के साथ गिरफ्तार
Saturday, March 2, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

कोलकाता हाईकोर्ट ने झारखंड कांग्रेस के तीनों विधायकों को दी जमानत, इरफान अंसारी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री पर लगाया फंसाने का आरोप

रांची : कोलकाता हाईकोर्ट ने झारखंड के कांग्रेस के तीन विधायकों को जमानत दे दी है। अदालत ने जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी, खिजरी विधायक राजेश कच्छप और कोलेबिरा विधायक नमन विक्सल कोंगाड़ी को अंतरिम जमानत दे दी है। इन विधायकों को हाल ही में पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में 49 लाख रुपये नकद के साथ गिरफ्तार किया गया था।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी ने जमानत मिलने के बाद शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर गंभीर आरोप लगाए। अंसारी ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राजनीतिक फायदे के लिए हमें झूठा फंसाया है। जो पैसा बरामद हुआ है वह हमारा है। इरफान अंसारी ने कहा कि हमारी रगों में कांग्रेस का खून बह रहा है। हम कभी भी भारतीय जनता पार्टी में शामिल नहीं हो सकते।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इरफान अंसारी ने कहा कि तीन विधायक कभी किसी सरकार को गिरा नहीं सकते। इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन विक्सल कोंगाड़ी पर झारखंड की गठबंधन सरकार को गिराने की साजिश रचने का आरोप है। हालांकि, विधायकों ने इस आरोप का जोरदार खंडन किया है। हाल ही में हाई कोर्ट ने उन्हें अंतरिम जमानत देते हुए कहा था कि सभी को व्यक्तिगत रूप से हर हफ्ते जांच अधिकारी के सामने पेश होना होगा।