Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

कोलकाता हाईकोर्ट ने झारखंड कांग्रेस के तीनों विधायकों को दी जमानत, इरफान अंसारी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री पर लगाया फंसाने का आरोप

रांची : कोलकाता हाईकोर्ट ने झारखंड के कांग्रेस के तीन विधायकों को जमानत दे दी है। अदालत ने जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी, खिजरी विधायक राजेश कच्छप और कोलेबिरा विधायक नमन विक्सल कोंगाड़ी को अंतरिम जमानत दे दी है। इन विधायकों को हाल ही में पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में 49 लाख रुपये नकद के साथ गिरफ्तार किया गया था।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी ने जमानत मिलने के बाद शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर गंभीर आरोप लगाए। अंसारी ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राजनीतिक फायदे के लिए हमें झूठा फंसाया है। जो पैसा बरामद हुआ है वह हमारा है। इरफान अंसारी ने कहा कि हमारी रगों में कांग्रेस का खून बह रहा है। हम कभी भी भारतीय जनता पार्टी में शामिल नहीं हो सकते।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इरफान अंसारी ने कहा कि तीन विधायक कभी किसी सरकार को गिरा नहीं सकते। इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन विक्सल कोंगाड़ी पर झारखंड की गठबंधन सरकार को गिराने की साजिश रचने का आरोप है। हालांकि, विधायकों ने इस आरोप का जोरदार खंडन किया है। हाल ही में हाई कोर्ट ने उन्हें अंतरिम जमानत देते हुए कहा था कि सभी को व्यक्तिगत रूप से हर हफ्ते जांच अधिकारी के सामने पेश होना होगा।