Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Tuesday, April 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरगढ़वापलामू प्रमंडल

गढ़वा: JJMP के उग्रवादियों ने पुल निर्माण स्थल पर मचाया उत्पात, मशीनों में की तोड़फोड़, मजदूरों से मारपीट

गढ़वा : उग्रवादी संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद (JJMP) के उग्रवादियों ने मंगलवार की रात जिले के भंडरिया थाना क्षेत्र में जमकर उत्पात मचाया। छह उग्रवादी भंडरिया थाना क्षेत्र के उस स्थान पर पहुंचे, जहां पुल का निर्माण कार्य चल रहा था। उग्रवादी वहां लेवी मांगने गये थे। नक्सलियों ने निर्माण स्थल पर तोड़फोड़ की और मजदूरों के साथ मारपीट भी की।

भंडरिया थाना क्षेत्र के अदा महुआ और कंजिया गांव को जोड़ने वाले सरस्वती नाला पर पुल का निर्माण कार्य चल रहा है। इसी बीच आधी रात को उग्रवादी लेवी वसूलने निर्माण स्थल पर पहुंचे। वे वहां हथियार लेकर आये थे। उन्होंने हथियार के बल पर तोड़फोड़ शुरू कर दी। इस दौरान उग्रवादियों ने पोकलेन मशीन में तोड़फोड़ की। वहीं वहां मौजूद कर्मियों के साथ मारपीट भी की। उग्रवादी अपने साथ तीन मोबाइल फोन और एक मोटरसाइकिल भी ले गये। घटना की जानकारी मिलते ही भंडरिया थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गयी।

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से इस इलाके में उग्रवादी काफी सक्रिय हैं। वे लेवी की मांग को लेकर लगातार निर्माण कार्य को बाधित कर रहे हैं। कुछ दिन पहले भी उग्रवादियों ने इलाके में पर्चा चिपकाकर दहशत फैलायी थी। इसी दस्ते के साथ रंका में पुलिस की मुठभेड़ हो चुकी है, जिसमें पुलिस को सफलता तो मिली, लेकिन आतंक का पर्याय बन चुका टुनेश उरांव का दस्ता अब भी पुलिस की पहुंच से बाहर है।

Garhwa JJMP Attack News