Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

JJMP ने 18 अक्टूबर से की पलामू प्रमंडल अनिश्चिकालीन बंद की घोषणा

JJMP Palamu division bandh

मनिका के सुशील एवं अमरेश को 46 दिन बाद भी जेल नहीं भेजने के विरोध में बुलाया बंद

पलामू : उग्रवादी संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद (जेजेएमपी) ने पलामू प्रमंडल में अनिश्चितकालीन बंद की घोषणा की है। इस बंद का एलान लातेहार के मनिका थाना क्षेत्र के मंधनिया के सुशील उरांव उर्फ बीरबल उरांव और अमरेश उरांव को पुलिस द्वारा घर से उठाये जाने के 46 दिन बाद भी जेल नहीं भेजे जाने के विरोध में किया गया है।

जेजेएमपी ने कहा है कि बंद आज रात 12 बजे से प्रभावी होगा। अगर पुलिस 24 घंटे के अंदर सुशील उरांव को जेल नहीं भेजती है, तो बंद अनिश्चितकालीन में तब्दील कर दिया जायेगा।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पलामू प्रमंडल के पलामू, गढ़वा और लातेहार में प्रेस वाहन, एंबुलेंस, दुग्ध वाहन और स्कूली वाहनों को बंद से मुक्त रखा गया है। जेजेएमपी के कर्मवीर जी ने मंगलवार 17 अक्टूबर को इस संबंध में एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की है। कहा गया है कि मनिका पुलिस ने 1.9.2023 को रात 8 बजे मनिका के मंधनिया स्थित घर से सुशील उरांव उर्फ बीरबल उरांव और अमरेश उरांव को उठाया है और 46 दिन बाद भी आज तक उन्हें जेल नहीं भेजा गया है। इस संबंध में पुलिस कुछ बोल भी नहीं रही है। यहां तक कि परिवार से भी मिलने नहीं दिया जा रहा है।

विज्ञप्ति में कहा है कि पुलिस प्रशासन कानून का संरक्षक है, लेकिन इस मामले में वे खुद ही कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं। नियमों के मुताबिक किसी भी शख्स की गिरफ्तारी के बाद उसे 24 घंटे के अंदर कोर्ट में पेश करना होता है, लेकिन सुशील और अमरेश के मामले में अभी तक ऐसा नहीं हुआ है।

सुशील उरांव पर 5 लाख रुपये का इनाम, गिरफ्तार कर लेते तो यह उपलब्धि होती : एसपी

लातेहार एसपी अंजनी अंजन ने मंगलवार को बताया कि जिस सुशील उरांव उर्फ बिरबल उरांव को गिरफ्तार करने की बात कही जा रही है, वह पांच लाख का इनामी उग्रवादी है। यह मेरे लिए एक उपलब्धि होती अगर हमने उसे पकड़ लिया होता और उसे प्रमुखता से सामने ला दिया होता। उसे 46 दिनों तक गायब नहीं रखा होता।

एसपी ने कहा कि जेजेएमपी उग्रवादियों में आपसी फूट है। इसी वजह से सुशील लापता है। कुछ दिन पहले जेजेएमपी के उग्रवादी आपस में भिड़ गये थे। टीम टूट गयी है। ऐसी प्रेस विज्ञप्ति उन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से दिखी है। लगाये गये आरोप बेबुनियाद और निराधार हैं।

JJMP Palamu division bandh