Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

शिबू सोरेन की अध्यक्षता में 10 जून को होगी झारखंड राज्य समन्वय समिति की बैठक

रांची : झारखंड राज्य समन्वय समिति की बैठक 10 जून को झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष व सांसद शिबू सोरेन की अध्यक्षता में होगी। बैठक सुबह 11 बजे मोरहाबादी स्थित उनके आवास पर शुरू होगी।

इस संबंध में मंगलवार को मिली जानकारी के अनुसार कैबिनेट सचिवालय एवं निगरानी विभाग ने समिति के अध्यक्ष सहित विशेष आमंत्रित, सभी सदस्यों और आमंत्रित सदस्यों को सूचना जारी कर दी है। साथ ही सभी से बैठक में शामिल होने की अपील की गयी है।

गौरतलब है कि झारखंड राज्य समन्वय समिति के संबंध में सरकार स्तर से नवंबर 2022 को अधिसूचना जारी की गयी थी। इसमें शामिल सदस्यों को मंत्री का दर्जा दिया गया है, जिनका कार्यकाल तीन साल का होता है। समिति में झामुमो और कांग्रेस के कई नेताओं के अलावा राजद से मंत्री सत्यानंद भोक्ता को भी शामिल किया गया है।

समिति के अध्यक्ष शिबू सोरेन, मंत्री आलमगीर आलम, सत्यानंद भोक्ता, पूर्व मंत्री बंधु तिर्की और विधायक सरफराज अहमद को मंत्री का दर्जा नहीं दिया गया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर, झामुमो के फागू बेसरा, बिनोद पांडे और योगेंद्र महतो को मंत्री का दर्जा दिया गया है।

Jharkhand State Coordination Committee meeting