Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Wednesday, May 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झामुमो ने कुछ सोच कर ही लिया निर्णय, झारखंड में हमारा गठबंधन एकजुट : अविनाश पांडेय

रांची : झारखंड प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार शाम सर्विस प्लेन से रांची पहुंचे। रांची एयरपोर्ट पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर समेत कई नेताओं ने उनका स्वागत किया।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

एयरपोर्ट पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए अविनाश पांडे ने कहा कि यशवंत सिन्हा विचारधारा की लड़ाई में विपक्ष के आम उम्मीदवार हैं। हमने मिलकर उम्मीदवार का फैसला किया। एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने के झामुमो के फैसले पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया से जुड़े एक सवाल के जवाब में अविनाश पांडे ने कहा कि झामुमो ने कुछ सोच-विचार के बाद ही फैसला लिया है। वैसे झारखंड में हमारा गठबंधन पूरी तरह से एकजुट है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

उन्होंने कहा कि जयपुर अधिवेशन में लिये गये निर्णय के अनुरूप आंदोलनकारी कार्यक्रमों को लागू करने के लिये शनिवार को रणनीति तैयार की जायेगी। बीएनआर चाणक्य में आयोजित बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, समन्वय समिति के सदस्य, संगठनात्मक अभियान समिति के आयोजक, विधायक, मंत्री मौजूद रहेंगे, जिसमें 9 अगस्त से गौरव यात्रा और 2 अक्टूबर से भारत जोड़ो कार्यक्रम की सफलता पर चर्चा होगी।