Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड कैबिनेट में फेरबदल, कांग्रेस के लिए नयी मुसीबत, फूट पड़ने की आशंका बढ़ी

रांची : कांग्रेस में सब कुछ ठीक नहीं है। कैश स्कैंडल में पार्टी के तीन विधायक फिलहाल जेल में हैं। पार्टी के प्रभारी पहले ही कांग्रेस कोटे के मंत्रियों में फेरबदल के संकेत दे चुके हैं। अब जबकि झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र भी समाप्त हो गया है, इस दिशा में भी मामला आगे बढ़ेगा। हालांकि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में तमाम शिकायतें दूर होने की चर्चा है, लेकिन मंत्री पद बदलने के बाद भी पार्टी में फूट पड़ने की आशंका है।

पार्टी कांग्रेस कोटे से चार में से दो या तीन मंत्रियों को बदलने का मन बना रही है। ऐसे में उनकी जगह दो-तीन विधायकों को मंत्री बनने का मौका मिलेगा। वे विधायक जो मंत्री नहीं बन पाएंगे या जिन्हें मंत्री पद से हटना होगा, वे विरोध का झंडा खड़ा कर सकते हैं। राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस के नौ से 10 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की थी। वहीं, पार्टी को कई अन्य विधायकों के भी कैश कांड में शामिल होने की आंतरिक जानकारी मिली है।

ऐसे में पार्टी की रिपोर्ट के मुताबिक जो विधायक न तो क्रॉस वोटिंग में शामिल थे और न ही कैश स्कैंडल में शामिल थे, उन्हें पार्टी के साथ खड़े होने के लिए मंत्री पद मिल सकता है। पार्टी उन्हें शॉर्टलिस्ट कर रही है। दोनों में शामिल विधायकों को मंत्री पद मिलने की संभावना नहीं है। हालांकि ऐसे विधायक क्रॉस वोटिंग और कैश स्कैंडल में शामिल होने से भी इनकार कर रहे हैं।

कैश कांड में जेल में बंद तीन विधायकों के बयान से दूसरे विधायकों का भविष्य तय होगा, वहीं अगर सरकार विधायकों को किसी न किसी रूप में मंत्री बनाएगी तो अन्य विधायकों में रोष होगा और बंटवारे की संभावना बढ़ जाएगी। ऐसे में पार्टी मंत्रिमंडल में फेरबदल की प्रक्रिया को आगे बढ़ा सकती है।