Breaking :
||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद

Jharkhand budget 2023-2024: हेमंत सरकार 3 मार्च को पेश करेगी बजट, आम नागरिकों से मांगे सुझाव, तैयारी शुरू

Jharkhand budget 2023-2024

रांची : राज्य की हेमंत सरकार 3 मार्च को वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट सदन में पेश करेगी। बताया जा रहा है कि इस बार का बजट आम लोगों से जुड़ा होगा। हालांकि बजट बनाने के लिए सरकार ने आम नागरिकों से सुझाव भी मांगे हैं। नये वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए बजट तैयार करने की तैयारी शुरू हो गयी हैं।

आम नागरिकों से बजट से जुड़े मांगा गया है सुझाव

जानकारी के मुताबिक बजट पर 2024 में होने वाले चुनाव की झलक देखने को मिलेग। गरीबी दूर करने और बेरोजगारी कम करने के लिए सरकार बजट में कई प्रावधान करने जा रही है। मुख्यमंत्री ने हाल ही में बजट पोर्टल और मोबाइल एप का उद्घाटन करते हुए झारखंड के आम नागरिकों से बजट 2023-24 से जुड़े सुझाव मांगे हैं। वित्त विभाग द्वारा ऑनलाइन मांगे गए सुझावों के बाद 25 जनवरी को सरकार समाज के प्रबुद्ध नागरिकों से सीधा संवाद आयोजित कर बजट संबंधी सुझाव लेने का काम करेगी। इसके अलावा बजट को लेकर सभी विभागों से प्रस्ताव मांगे गये हैं।

गरीबी और बेरोजगारी कम करने पर होगा विशेष फोकस

इस संबंध में वित्त मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने कहा कि इस बार का बजट आम लोगों से जुड़ा होगा, जिसमें गरीबी दूर करने और बेरोजगारी कम करने पर विशेष फोकस होगा। इस संबंध में आम लोगों से मिले सुझावों पर सरकार विचार करेगी। नये बजट के केंद्र में आम आदमी होगा। झारखंड में गरीबी, बेरोजगारी और पिछड़ापन ज्यादा है। इसे दूर करने के लिए बजट में यथासंभव प्रावधान किये जायेंगे।

कृषि क्षेत्र को सर्वोच्च प्राथमिकता देने की तैयारी

उन्होंने कहा कि झारखंड में बड़ी संख्या में लोग कृषि पर निर्भर हैं। यही वजह है कि सरकार का इस बार फोकस कृषि और उत्पादन बढ़ाने पर है। कृषि न केवल लोगों का पेट भरती है, बल्कि बड़ी संख्या में रोजगार भी पैदा करती है। इन्हीं कारणों से सरकार इस साल अपने बजट में कृषि क्षेत्र को सर्वोच्च प्राथमिकता देने की तैयारी कर रही है। इस साल बजट साइज 10 से 12 फीसदी ज्यादा रहने की संभावना है।

Jharkhand budget 2023-2024