Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Saturday, June 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने मैट्रिक और इंटर परीक्षा के पैटर्न में किया बदलाव, जानें

रांची : राज्य में 16 फरवरी से शुरू होने जा रही मैट्रिक और इंटर परीक्षाओं के पैटर्न में बदलाव किया गया है। यह फैसला झारखंड एकेडमिक काउंसिल (JAC) की बोर्ड बैठक में लिया गया है। इस बदलाव के मुताबिक अब बोर्ड परीक्षाओं में ओएमआर शीट शामिल नहीं होगी। अब सिर्फ पेन-पेपर आधारित बोर्ड परीक्षा होगी। साल 2024 में होने वाली बोर्ड परीक्षा में 50 अंकों की लिखित परीक्षा, 30 अंकों की ऑब्जेक्टिव परीक्षा और 20 अंकों की प्रैक्टिकल परीक्षा होगी।

बोर्ड बैठक के बाद लिए गये फैसले में कहा गया है कि परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों को एक ही प्रश्न पत्र मिलेगा, जिसमें ऑब्जेक्टिव और सब्जेक्टिव प्रश्न होंगे। अभ्यर्थियों को दोनों प्रश्नों का उत्तर एक ही उत्तर पुस्तिका में देना होगा। ऑब्जेक्टिव और सब्जेक्टिव प्रश्नों के अंकों में भी बदलाव किया गया है। यह बदलाव साल 2024 से ही लागू हो जायेगा। इसके अलावा साल 2025 से कुछ और बदलाव देखने को मिलेंगे। इसके तहत 2025 से ऑब्जेक्टिव प्रश्न 20 फीसदी, सब्जेक्टिव 60 फीसदी और प्रैक्टिकल और इंटरनल असेसमेंट 20 फीसदी होगा।

मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 16 फरवरी से होंगी। परीक्षा दो पालियों में होगी। परीक्षा 16 फरवरी से शुरू होकर 26 फरवरी तक चलेगी। निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक पहली पाली में मैट्रिक और दूसरी पाली में इंटरमीडिएट की परीक्षा आयोजित की जायेगी। परीक्षा ओएमआर और उत्तर पुस्तिका दोनों में आयोजित की जायेगी, जिन विषयों में व्यावहारिक परीक्षा नहीं होगी उनमें 20 अंकों का आंतरिक मूल्यांकन होगा। मैट्रिक और इंटरमीडिएट दोनों परीक्षाओं के नतीजे 15 जून तक जारी हो सकते हैं।

Jharkhand matriculatio inter examination pattern changed