Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: हेरहंज में मनरेगा लाभुकों से काम के बदले जेई ने खुलेआम मांगे पैसे, वीडियो वायरल, देखें

Herhanj JE viral video

नितीश यादव/हेरहंज

लातेहार : जिले में मनरेगा मजदूरों के लिए सरकार की ओर से कई महत्वाकांक्षी योजनायें चलायी जा रही हैं। ताकि मजदूर गांव में ही रहकर अपना जीवन यापन कर सकें। उनका पलायन न हो। लेकिन प्रखंड की अफसर शाही से ग्रामीण परेशान हैं। अधिकारियों द्वारा काम देने के बदले खुलेआम पैसे की मांग की जा रही है। नहीं देने पर ग्रामीण प्रखंड कार्यालय का चक्कर लगाते-लगाते थक जा रहे हैं। कुछ ऐसा ही मामला हेरहंज प्रखंड से सामने आया है।

प्रखंड के बिदिर गांव निवासी रंजीत गंझू व घुरे गांव निवासी बलजीत गंझू समेत कई ग्रामीणों ने मनरेगा के तहत टीसीबी, गौशाला, बकरी शेड, मुर्गी मुर्गी शेड, सुअर शेड के नये निर्माण की मांग प्रखंड विकास पदाधिकारी सह अंचलाधिकारी प्रदीप कुमार दास से की थी। जिस पर प्रखंड विकास पदाधिकारी श्री कुमार द्वारा कुछ योजनायें दी गयीं थीं। योजनाओं की इंट्री भी हो गयी थी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

लेकिन जब कनीय अभियंता नरेश प्रजापति के पास लॉगिंग के लिए गये तो उन्होंने सभी ग्रामीणों को बुलाकर उन्हें परेशान किया और काम भी नहीं कर रहे थे। इसके बाद ग्रामीणों ने कहा कि परेशान क्यों कर रहे हैं। इसपर जेई श्री प्रजापति ने कहा कि मैंने पहले ही कहा था कि इस सारे काम में काफी मेहनत करनी पड़ती है। फिर एक शेड में पांच से दस हजार रुपये की मांग की गयी। कहा गया कि दस हजार दोगे तो हाई क्वालिटी का एस्टीमेट मिलेगा।

इसके बाद शनिवार को रंजीत गंझू, बलजीत गंझू और कुछ अन्य ग्रामीण ब्लॉक परिसर स्थित जेई के आवास पर पहुंचे। काम की बात होने लगी। इसी दौरान किसी लाभुक ने वीडियो बना लिया। जिसमें जेई दबी जुबान में पैसे की मांग कर रहे हैं। वे कह रहे हैं कि मैं पहले ही कह चुका हूं। अब जो चाहो दे दो। इसी बीच उन्हें कुछ भनक लग जाती है। इसके बाद जेई ने रंजीत गंझू से मोबाइल लूटने की कोशिश की, लेकिन नहीं लूट सके। इसके बाद हंगामा शुरू हो गया।

काफी देर तक कुछ बिचौलिये ब्लॉक परिसर से दूर हटकर लाभुकों से मैनेज करने की बात की। लेकिन लाभुक मैनेज करने के लिए तैयार नहीं हुए। इसी बीच हंगामे के बाद वह वीडियो वायरल हो गया। हालांकि The News Sense इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।

इस संबंध में पूछे जाने पर प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रदीप कुमार दास ने कहा कि मुझे इस मामले की जानकारी मिली है, अभी मैं बाहर हूं, आने के बाद ही जांच की जायेगी। ये सच है या झूठ।

प्रखंड उपप्रमुख विजय उरांव ने कहा कि भ्रष्ट कर्मियों पर कार्रवाई होनी चाहिए।

इस मामले में पूछे जाने पर जेई नरेश प्रजापति ने कहा कि थोड़ा बहुत होते रहता है, क्या कीजियेगा।

Herhanj JE viral video