Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

युवक ने भटकी हुई बच्ची को परिजनों से मिला कर दिया मानवता का परिचय

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : बरवाडीह रेलवे कॉलोनी निवासी दीपक राज दीपू ने शुक्रवार को मानवता का परिचय देते हुए अपने परिवार से बिछड़े 3 वर्षीय छोटी बच्ची को उसके परिवार से मिलाने का पुनीत कार्य किया।

जानकारी के अनुसार आज दोपहर लगभग 1:00 बजे एक नाबालिक 3 वर्षीय बच्ची रेलवे कॉलोनी में भटकते हुए दिखी। जिसे देख दीपक राज दीपू ने उसे अपने घर के आंगन में बिठाया और उसका नाम और घर का पता पूछने का प्रयास किया। जहां बच्चे रोते हुए सिर्फ अपने गांव का नाम चपरी ही बता पा रही थी।

जिसके बाद दीपक राज दीपू के द्वारा उस बच्ची को अपनी मोटरसाइकिल में बिठाकर पूरे बाजार बस स्टैंड रेलवे स्टेशन में ले जा कर लोगों से उस बच्ची की पहचान कराने का प्रयास किया। जिसके बाद उस बच्ची को लेकर चपरी गाँव मे जाकर लोगो से उसकी पहचान कराने का प्रयास किया। जहाँ चपरी निवासी पप्पू पासवान की मदद से उस बच्ची के घर का पता लगाया गया औऱ उसके घर ले गये।

बच्ची की पहचान गांव के स्वर्गीय गुरदी भुईया की पुत्री के रूप में हुई। जिसका नाम रूबी है, जो मां के साथ बाजार जाने के क्रम में उसके पीछे-पीछे घर से निकली थी और भटक गई थी।

वही परिजनों ने बताया कि इसके पिता की मौत मुंबई में ट्रेन से कटकर हो गई थी। जिसके बाद से घर की आर्थिक स्थिति भी खराब हो चुकी है। परिजनों ने घर में बच्ची के वापस आने पर खुशी जाहिर करते हुए दीपक राज दीपू का आभार व्यक्त किया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *