Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Thursday, June 13, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड में जारी रहेगी पीडीएस डीलरों की अनिश्चितकालीन हड़ताल, विभाग से वार्ता विफल

Jharkhand PDS dealers strike

रांची: पीडीएस डीलर एसोसिएशन की अनिश्चितकालीन हड़ताल के कारण राज्य में राशन वितरण ठप हो गया है। मंगलवार को खाद्य आपूर्ति विभाग के सचिव अमिताभ कौशल के साथ पीडीएस डीलर्स एसोसिएशन की बैठक हुई, लेकिन विभाग की ओर से एसोसिएशन की मांगों पर संतोषजनक आश्वासन नहीं मिलने के कारण एसोसिएशन ने हड़ताल जारी रखने का निर्णय लिया है।

राज्य में 25400 पीडीएस डीलर हैं, जिनके जरिये सरकार राशन बांटती है। पीडीएस डीलरों की हड़ताल के कारण गरीबों को राशन नहीं मिल रहा है। राज्य में अंत्योदय राशन कार्डों की संख्या 892488 है, जिसमें परिवार के सदस्यों की संख्या 3449144 है। पीएचएच राशन कार्ड संख्या 5211687 है, जिसमें परिवार के सदस्यों की संख्या 22976241 है। पीएचएच राशन कार्ड में चार किलो चावल और एक प्रति माह प्रति सदस्य किलो गेहूं मिलता है जबकि हरे राशन कार्ड में संख्या 484476 है, जिसमें परिवार के सदस्यों की संख्या 1509715 है।

रांची जिला पीडीएस डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष ज्ञानदेव झा ने बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार ने 81 करोड़ लोगों को पांच साल तक पांच किलो अनाज बांटने की मंजूरी दे दी है, लेकिन डीलरों की सुविधाओं में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है. कोरोना काल में 13 माह तक लाभुकों को प्रति कार्ड पांच किलो मुफ्त अनाज वितरण किया गया, जिसका कमीशन अब तक नहीं मिला है।

विभाग के सचिव ने कहा है कि कमीशन दिया जायेगा, लेकिन कब, यह तय नहीं है। साथ ही, पिछले 10 वर्षों से कमीशन दर में वृद्धि नहीं की गयी है।

Jharkhand PDS dealers strike