Breaking :
||रांची में बाइक सवार बदमाशों ने पति-पत्नी को मारी गोली, दोनों की मौत||TSPC के जोनल कमांडर ने किया बड़ा खुलासा, झारखंड में हिंसा फैलाने के लिए खरीद रहा था विदेशी हथियार||भारत-इंग्लैंड टेस्ट मैच को लेकर बल्लेबाज शुबमन गिल ने पत्रकारों से कहा- रांची में ही सीरीज जीतने के लिए हम तैयार||पलामू: बच्चों को आशीर्वाद देने निकले किन्नरों से मारपीट, आक्रोश||झारखंड: प्रेमी ने शादी से किया इंकार तो प्रेमिका ने दे दी जान||गढ़वा: JJMP के उग्रवादियों ने पुल निर्माण स्थल पर मचाया उत्पात, मशीनों में की तोड़फोड़, मजदूरों से मारपीट||झारखंड विधानसभा का बजट सत्र 23 फरवरी से, स्पीकर ने की उच्च स्तरीय बैठक||विधायक भानु प्रताप शाही एससी-एसटी एक्ट में बरी, चार लोगों को छह-छह माह कारावास की सजा||रांची पहुंची भारत और इंग्लैंड की टीमें, पारंपरिक अंदाज में हुआ स्वागत||लातेहार: ईंट भट्ठा पर फायरिंग कर अपराधियों ने फैलायी दहशत, कर्मियों को पीटा, संचालक को दी चेतावनी
Thursday, February 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

क्राइम कंट्रोल की समीक्षा बैठक में डीजीपी ने कहा-संगठित अपराधी गिरोहों का जल्द करें खात्मा

रांची : डीजीपी अजय कुमार सिंह ने अधिकारियों को अपराधियों व असामाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखने को कहा है। साथ ही संगठित अपराधी गिरोह का जल्द सफाया करने के निर्देश दिये। डीजीपी शनिवार को पुलिस मुख्यालय में अपराध नियंत्रण व कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे।

उन्होंने सभी एसपी को संगठित आपराधिक गिरोहों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने, संगठित आपराधिक गिरोहों के फरार अपराधियों को गिरफ्तार करने, अपराध पर नियंत्रण करने और साइबर अपराध पर अंकुश लगाने के निर्देश दिया। साथ ही साइबर अपराध के हॉटस्पॉट चिन्हित करते हुए त्वरित कार्रवाई करने और लोगों को साइबर अपराध से बचने के लिए जागरूक करने का निर्देश दिया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बैठक में सभी जिलों से हत्या, डकैती, लूट, गृहभेदन, चोरी, आर्म्स एक्ट, संगठित गिरोहों द्वारा रंगदारी तथा पॉक्सो एक्ट के मामलों की समीक्षा की गयी। डीजीपी ने सभी अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए त्वरित कार्रवाई और पिछले मामलों के त्वरित निस्तारण पर जोर दिया।

बैठक में सीआईडी एडीजी अनुराग गुप्ता, एडीजी कैंपेन सजय आनंद राव लाठकर, आईजी अखिलेश कुमार झा, आईजी कैंपेन अमोल वेणुकांत होमकर, सीआईडी आईजी असीम बिक्रांत मिंज, राजकुमार लकड़ा, नरेंद्र कुमार, सुदर्शन प्रसाद मंडल, कन्हैया मयूर पटेल, अजय लिंडा, तमिल वनन समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल थे।

Jharkhand Police DGP News