Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

ACID ATACK IN CHATRA: प्रेम प्रसंग में युवक ने मां के साथ सो रही युवती पर फेंका तेजाब, दोनों घायल

चतरा जिले में एक सिरफिरे प्रेमी ने एक लड़की पर तेजाब फेंक दिया। हंटरगंज प्रखंड के डाहा पंचायत के ढेबो गांव की एक युवती व उसकी मां गंभीर रूप से घायल हो गई है। घटना गुरुवार रात की है। बताया जा रहा है कि बच्ची घर में अपनी मां के साथ सो रही थी। इस दौरान युवक ने कमरे में घुसकर युवती के चेहरे व शरीर पर तेजाब डाल दिया।

बेटी को बचाने के दौरान मां के ऊपर भी तेजाब के छींटे पड़े। वह भी घायल हो गई। मां-बेटी की चीख-पुकार सुनकर घर के बाहर सो रहा छोटा भाई दूसरी बहन को लेकर वहां पहुंच गया। दोनों ने शोर मचाकर गांव के लोगों को भी जगाया। ग्रामीणों को इकट्ठा होते देख युवक फरार हो गया। मामला प्रेम प्रसंग का बताया जा रहा है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

ग्रामीण गंभीर रूप से घायल अवस्था में मां-बेटी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। दोनों की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें गया मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। युवती की हालत नाजुक बनी हुई थी। इसलिए उन्हें गया से पटना रेफर कर दिया गया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस वहां पहुंच गई।

पीड़िता के भाई पंकज कुमार और बहन ने पुलिस को बताया कि बेला गांव के दीपक भारती ने बहन और मां को तेजाब डालकर घायल कर दिया है। भाई-बहन ने बताया कि छह महीने पहले दीपक ने काजल को घर से बहला फुसला कर ले गया था। काफी दबाव के बाद काजल को छोड़ा गया। काजल ने उनसे बात करना बंद कर दिया था।

इससे दीपक नाराज हो गया। वह लगातार काजल और उसके परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दे रहा था। फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी दी। जब काजल और उनके परिवार वाले इस बात के लिए राजी नहीं हुए तो उन्होंने एसिड अटैक को अंजाम दिया।

पुलिस आरोपियों के घर और संभावित इलाकों में छापेमारी कर रही है. घटना से पीड़िता के भाई-बहन दहशत में हैं। काजल के पिता जत्नु यादव सिरसा में रहते हैं और काम करते हैं। काजल घर पर अपनी मां और दो छोटे भाई-बहनों के साथ रहती हैं।