Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Saturday, April 20, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू में सर्पदंश से पति-पत्नी मौत, झाड़-फूंक के चक्कर में गयी दोनों की जान

पलामू : जिले के नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र के लक्ष्मीपुर पंचायत के नावाडीह गांव में सर्पदंश से पति-पत्नी की जान चली गयी। बुधवार की रात सोते समय दोनों को जहरीले सांप ने काट लिया। पहले तो दोनों का इलाज गांव के झोलाछाप डॉक्टरों से कराया गया। जब स्थिति में सुधार नहीं हुआ तो उन्हें जंगली क्षेत्र में ले जाकर झाड़-फूंक कराया गया। स्थिति बिगड़ने पर आखिरकार उन्हें अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां गुरुवार को डॉक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

मृतकों की पहचान बैजनाथ साव (50) और उनकी पत्नी पुष्पा देवी (45) के रूप में की गयी है। बताया जाता है कि दोनों घर में सो रहे थे। इसी बीच सांप ने सबसे पहले महिला पुष्पा को डस लिया। जब वह उठी तो उसने सांप को उठाकर फेंक दिया, लेकिन वह उसके पति के पास जा गिरा और फिर सांप ने बैजनाथ साव को काट लिया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

परिजन उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाने के बजाय झाड़-फूंक के लिए करीब 15 किलोमीटर दूर कोसियारा जंगल ले गए, जहां घंटों तक झाड़-फूंक किया गया, लेकिन पति-पत्नी की हालत में सुधार होने के बजाय बिगड़ती चली गयी। आज सुबह दोनों को अनुमंडलीय अस्पताल छतरपुर लाया गया, जहां डॉक्टरों ने पति-पत्नी को मृत घोषित कर दिया। बैजनाथ और उसकी पत्नी मजदूरी करते थे। उनके दो बेटे और एक बेटी है। बेटी की शादी तय हो गयी थी। दो महीने बाद शादी करनी थी।

पलामू सिविल सर्जन डॉ. अशोक कुमार ने बताया कि जिले के विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों पर 10 हजार से अधिक एंटी वेनम उपलब्ध हैं। सर्पदंश के मामलों के लिए मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज, छतरपुर, विश्रामपुर, हुसैनाबाद अनुमंडल अस्पताल में भी विशेष टीम तैनात की गयी है।

गौरतलब है कि जिले में पिछले दो माह में सर्पदंश के 92 मामले सामने आये, जिसमें आठ की मौत हो गयी। कहा जाता है कि अंधविश्वास के चक्कर में सभी की जान चली गयी।