Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरछिपादोहरपलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: पत्नी की हत्या का आरोपी पति समेत 25 सालों से फरार चल रहा लाल वारंटी गिरफ्तार

Latehar Chhipadohar Latest News

लातेहार : जिले की छिपादोहर थाना पुलिस ने 10 मई को हुई महिला की हत्या का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने पत्नी की हत्या के आरोपी पति गोला सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि लाल वारंटियों की गिरफ्तारी अभियान के दौरान एक मामले में 25 साल से फरार चल रहे लाल वारंटी सुशील मिंज को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है।

शनिवार को छिपादोर थाना में आयोजित प्रेसवार्ता में एसडीपीओ दिलु लोहरा ने बताया कि थाना क्षेत्र के टोंगारी जंगल में 13 मई को मलौती देवी का शव पेड़ से लटका मिला था। इस संबंध में मृतका के पति गोला सिंह ने छिपादोहर थाने में हत्या का मामला दर्ज कराया था।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

एसडीपीओ ने बताया कि एसपी के निर्देश पर एक टीम गठित कर मामले की जांच शुरू की गयी। जांच में यह बात सामने आयी कि महिला मलौती देवी की दिमागी हालत ठीक नहीं थी और वह हमेशा शराब पीकर पति से लड़ाई झगड़ा करते रहती थी। घटना वाले दिन (10 मई) भी जंगल में मवेशी चराने के दौरान वह पति गोला सिंह से लड़ाई झगड़ा करने लगी। विवाद इतना बढ़ गया कि गुस्से में आकर पति गोला सिंह ने टांगी के बट से पीट-पीट कर उसकी हत्या कर दी। हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए उसके शव को साड़ी के सहारे जंगल में ही पेड़ से लटका दिया। घटना को अंजाम देने के बाद से वह फरार चल रहा था।

25 वर्षों से फरार लाल वारंटी गिरफ्तार

एसडीपीओ ने बताया कि एसपी के निर्देश पर लाल वारंटियों की गिरफ्तारी को लेकर अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में 25 वर्षों से फरार एक लाल वारंटी सुशील मिंज (करमडीह, छिपादोहर) को गिरफ्तार किया गया है। इस आरोपी पर विभिन्न कांडों में सात स्थायी वारंट लबित थे। वह पिछले 25 वर्षों से फरार चल रहा था।

इन दोनों की गिरफ्तारी में एसडीपीओ दिलु लोहरा के अलावे पुलिस इंस्पेक्टर अनिल उरांव, छिपादोहर थाना प्रभारी अभिषेक कुमार, पुअनि रंजीत राम, रंजीत कुमार, काशी महली, सअनि राजेश कुमार, सचितानंद सिंह, अनंत कुमार समेत सशस्त्र बलों की भूमिका सराहनीय रही।

Latehar Chhipadohar Latest News