Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Thursday, June 13, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: हेरहंज में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में बरती जा रही भारी अनियमितता, ग्रामीणों ने अधिकारी व संवेदक पर लगाये गंभीर आरोप

लातेहार : जिले के हेरहंज प्रखंड क्षेत्र के सेरनदाग पंचायत अंतर्गत खपिया गांव से सेरनदाग गांव तक प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत सड़क का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। वर्तमान समय में खपिया बस्ती में पीसीसी सड़क का निर्माण कार्य चल रहा है, जहां के ग्रामीणों का आरोप है कि उक्त पीसीसी निर्माण में डस्ट एवं मिट्टी मिश्रित बालू का उपयोग कर निम्न गुणवत्ता वाली सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। सड़क के निर्माण में गुणवत्ता का ख्याल नहीं रखा जा रहा है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

ग्रामीणों ने यह भी कहा कि विरोध के बाद भी यह सारा काम विभाग के कनीय अभियंता और सहायक अभियंता की मौजूदगी में हो रहा है। ग्रामीण घनश्याम सिंह, उपमुखिया विनोद सिंह समेत कई लोगों ने बताया कि यह विरोध शुरू से ही चल रहा था। वहीं विभाग के लोगों से मौखिक शिकायत भी की गयी लेकिन किसी ने नहीं सुनी। आज भी ऐसा ही हुआ। जूनियर इंजीनियर की मौजूदगी में यह काम किया गया।

ग्रामीणों ने कहा कि विभाग के अधिकारी व संवेदक की मिलीभगत से सड़क का निर्माण निम्न स्तर पर किया जा रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि इतना ही नहीं मात्रा के अनुरूप किसी भी सामग्री का उपयोग नहीं किया जा रहा है।

ग्रामीणों का कहना है कि ठेकेदार द्वारा कहा जाता है कि जहां भी शिकायत होगी, सभी को पैसा मिलता है। गौरतलब है कि उक्त सड़क का निर्माण 5.50 किलोमीटर तक होना है।

जानकारी के अनुसार उक्त सड़क का प्राक्कलन 3 करोड़ 97 लाख रुपये बताया जा रहा है। जिसका टेंडर चंदवा के साहिल इंफ्रा प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड ने लिया है।

इस संबंध में कनीय अभियंता संतोष उरांव ने कहा कि मैं और एसडीओ साहब जांच के लिए गये थे, ग्रामीणों ने शिकायत भी की है। मुंशी और ठेकेदार को पीसीसी के निर्माण में डस्ट का उपयोग नहीं करने से मना किया है।

Herhanj Latehar Latest News