Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में एक बाइक सवार की मौत, दो अन्य घायल||अपहृत डॉक्टर सकुशल बरामद, डालटनगंज में किराये का मकान लेकर छिपा रखे थे अपहरणकर्ता, तीन गिरफ्तार||रांची में पचास हजार का इनामी माओवादी हथियार के साथ गिरफ्तार||गुमला में तेज रफ़्तार का कहर, सड़क हादसे में दो छात्रों की दर्दनाक मौत||रांची: TSPC के इनामी उग्रवादी ने पुलिस के सामने किया सरेंडर||विजय संकल्प महारैली में बोले पीएम मोदी, मोदी की गारंटी पर देश कर रहा भरोसा, अबकी बार 400 पार||पलामू: बेटी की शादी के लिए बैंक से निकाले पैसे, रुपयों से भरा बैग छीनकर लुटेरे हुए फरार||सिंदरी खाद कारखाना चालू कराने का लिया था संकल्प, मोदी की गारंटी हुई पूरी : नरेन्द्र मोदी||कैबिनेट की बैठक में 40 प्रस्तावों को मिली मंजूरी, राज्य कर्मियों की पेंशन योजना में संशोधन, अब पांच हजार रुपये मिलेगा पोशाक भत्ता||पलामू: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 साल सश्रम कारावास की सजा
Saturday, March 2, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

धनबाद आशीर्वाद टावर फायर मामले में हाई कोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, सरकार से पूछा- अबतक क्या की गयी कार्रवाई

सरकार को पूरे प्रदेश में फायर सेफ्टी ऑडिट कराने के निर्देश

रांची : झारखंड उच्च न्यायालय ने धनबाद जिले के आशीर्वाद टावर में आग लगने की घटना पर स्वत: संज्ञान लिया है। इस मामले में गुरुवार को हाईकोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश व न्यायमूर्ति दीपक रोशन की खंडपीठ में सुनवाई हुई।

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने राज्य सरकार से पूछा कि अब तक इस मामले में क्या कार्रवाई की गयी है। कोर्ट ने इस मामले में नगर विकास सचिव को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। कोर्ट ने राज्य सरकार को पूरे राज्य में फायर सेफ्टी ऑडिट कराने का निर्देश दिया। अब कोर्ट इस मामले की सुनवाई 17 फरवरी को करेगा।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

अदालत ने मौखिक टिप्पणी करते हुए कहा कि यह घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है और इसकी जांच होनी चाहिए। सरकार की ओर से महाधिवक्ता राजीव रंजन और पीयूष चित्रेश ने कोर्ट के समक्ष अपना पक्ष रखा। उन्होंने कोर्ट को बताया कि पूरी घटना की जांच के लिए दो कमेटियां गठित की गयी हैं। इसके साथ ही उन्होंने कोर्ट को बताया कि राज्य के सभी जिलों के डीसी और एसपी को फायर सेफ्टी से जुड़े मानकों की समीक्षा करने का भी निर्देश दिया गया है।

गौरतलब है कि 31 जनवरी को धनबाद के बैंक मोड़ थाना क्षेत्र के आशीर्वाद टावर में आग लग गयी थी, जिसमें 14 लोगों की मौत हो गयी थी। जबकि कई लोग झुलस गये थे।

धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड