Breaking :
||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद

हाईकोर्ट का आदेश, CBI करेगी रूपेश पांडेय हत्याकांड की जांच

रांची : झारखंड हाईकोर्ट ने हजारीबाग के बरही के रूपेश पांडेय हत्याकांड की जांच सीबीआई को सौंपी है। 18 वर्षीय रूपेश की मां ने मामले की स्वतंत्र जांच एजेंसी से जांच कराने के लिए झारखंड हाईकोर्ट में आपराधिक रिट याचिका दायर की थी, जिस पर आज झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस एसके द्विवेदी की अदालत में सुनवाई हुई।

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने पुलिस की जांच पर असंतोष जताते हुए मामला सीबीआई को सौंप दिया। अदालत ने सीबीआई को मामले को जल्द से जल्द अपने हाथ में लेने का निर्देश दिया है और अदालत ने जिला प्रशासन को मामले से संबंधित दस्तावेजों को तुरंत सीबीआई को हस्तांतरित करने का भी निर्देश दिया है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बता दें कि 6 फरवरी 2022 को शाम पांच बजे रूपेश पांडे अपने चाचा के साथ बरही में सरस्वती पूजा देखने गए थे, इस दौरान असलम अंसारी उर्फ ​​पप्पू मियां के नेतृत्व में 25 लोगों की भीड़ ने उसे पीट-पीटकर मार डाला था।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें


इस मामले को लेकर बरही थाने में 27 आरोपियों के खिलाफ केस संख्या 59/2022 दर्ज किया गया था। इस मामले में पुलिस ने 7 फरवरी को 4 लोगों को गिरफ्तार किया था। साथ ही पीड़ित समाज के खिलाफ एफआईआर केस नंबर 63/2022 भी दर्ज किया गया था। हाईकोर्ट ने अब तक की गई पुलिस जांच पर नाखुशी जाहिर करते हुए मामले को सीबीआई को सौंप दिया है। इस मामले में सीबीआई की ओर से प्रशांत पल्लव ने पैरवी की थी।