Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

कोर्ट का फैसला, रिमांड अवधि में ED की हिरासत में रहेंगे हेमंत सोरेन, जेल में रखने की मांग खारिज

रांची : शनिवार को ईडी के विशेष न्यायाधीश दिनेश राय की अदालत ने पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को रिमांड अवधि के दौरान दिन में पूछताछ के बाद रात में होटवार स्थित बिरसा मुंडा जेल में रखने की मांग खारिज कर दी।

रिमांड अवधि के दौरान हेमंत सोरेन के पास पूरी तरह से ईडी की हिरासत रहेगी। कोर्ट में हेमंत सोरेन के महाधिवक्ता राजीव रंजन की ओर से सुरक्षा के दृष्टिकोण से दिन में पूछताछ के बाद रात में हेमंत सोरेन को बिरसा मुंडा जेल या अन्य सुरक्षित स्थान पर रखने की अनुमति मांगी गयी। यह भी कहा गया कि ईडी दफ्तर में उनकी जान को खतरा है, जिसे कोर्ट ने नहीं माना। कोर्ट ने रिमांड अवधि के दौरान हेमंत सोरेन के वकील, रिश्तेदारों और पत्नी को आधे घंटे के लिए उनसे मिलने की इजाजत दी है।

इससे पहले शुक्रवार को इस मामले में दोनों पक्षों की सुनवाई पूरी होने के बाद ईडी कोर्ट ने मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। ईडी की ओर से हाईकोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता अनिल कुमार ने पक्ष रखा। ईडी ने कहा कि रिमांड में दो तरह की कस्टडी होती है, आधी और आधी कस्टडी नहीं होती। या तो हेमंत सोरेन को न्यायिक हिरासत में जेल में रखा जाये या फिर रिमांड के दौरान पूछताछ का पूरा नियंत्रण उन्हें दिया जाये। अनुसंधान में क्या पूछना है और कब तक पूछना है, यह कोई और तय नहीं कर सकता। गौरतलब है कि ईडी ने हेमंत को पांच दिनों की रिमांड पर लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

Hemant Soren ED custody