Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

विपक्ष पर जमकर बरसे हेमंत सोरेन, कहा- सरकार की लोकप्रियता से भाजपा के पेट में हो रहा दर्द

रांची : झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से ईडी ने गुरुवार को 1000 करोड़ रुपये के अवैध खनन मामले में करीब 10 घंटे तक पूछताछ की। इन सबके बीच ईडी की अगली कार्रवाई को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इधर, रांची के कांके रोड स्थित मुख्यमंत्री आवास के समीप शुक्रवार को बड़ी संख्या में हेमंत सोरेन के समर्थक और कार्यकर्ता जुटे। साथ ही सत्ता पक्ष के विधायक भी लामबंद हुए।

हम गोलियों और बंदूकों से नहीं डरते

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री आवास पर समर्थकों और कार्यकर्ताओं का हाल जाना। अपने संबंध में हेमंत सोरेन ने कहा कि हर व्यक्ति को घर से बाहर निकलना चाहिए। साजिश का पर्दाफाश करो। झारखंड की जनता झुकना नहीं जानती। हमें गोलियों और बंदूकों से कोई डरा नहीं सकता।

जांच गलत हुई तो विरोध होगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर जांच ठीक से होगी तो हम उसका समर्थन करेंगे, लेकिन जांच गलत हुई तो विरोध होगा। विपक्ष हमारे मूलनिवासी आदिवासियों को भड़काने की कोशिश कर रहा है, लेकिन मैं उन्हें बता दूं कि 3.25 करोड़ लोगों ने उनकी साजिश को पहचान लिया है। जिस तरह से आज सरकार की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। सरकार जिस तरह से पंचायत स्तर पर विकास कार्यों को अंजाम दे रही है। वह ग्रामीणों की समस्याओं का समाधान कर रही हैं, जिससे भाजपा के लोगों के पेट में दर्द हो रहा है।

दूध का दूध और पानी का पानी करे ईडी

मुख्यमंत्री ने कहा कि कल हम ईडी कार्यालय गए थे। करीब 8 घंटे तक उनके सवालों का जवाब दिया। हमने उन्हें बताया कि आपने जो आरोप लगाए हैं। क्या इसे दो साल में पूरा किया जा सकता है? तो ED का कहना है कि ये 2 साल का आरोप नहीं है, जब 2 साल का कोई आरोप नहीं है तो आप पूर्व सरकार से बात क्यों नहीं करते। हमने उनसे कहा कि अगर आप ईमानदारी से दूध का दूध और पानी का पानी करते हैं तो एजेंसियों को सरकार का पूरा सहयोग मिलेगा।

ईडी की कार्रवाई केवल गैर भाजपा शासित राज्यों में ही क्यों

मुख्यमंत्री ने कहा कि ईडी की कार्रवाई केवल गैर भाजपा शासित राज्यों पर ही क्यों की जा रही है। आज तक कारोबारी ही करोड़ों रुपए लेकर विदेश भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने प्रदेश और युवाओं की हालत बद से बदतर कर दी है। वहीं दूसरी ओर आज हमारी सरकार आदिवासी बच्चों को बीडीओ, सीओ बना रही है। रोजगार की व्यवस्था की जा रही है। इंजीनियर की नियुक्ति की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम गरीबों के लिए संघर्ष शीतकाल का इतिहास रहा है। ढिशूम गुरु शिबू सोरेन भी इन लोगों से परेशान थे, लेकिन हुआ क्या। शिबू सोरेन पर कोई दाग नहीं लगा।