Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंड

गुमला: भाजपा नेता सुमित केसरी की इलाज के दौरान मौत, बवाल

gumla bjp neta news

विरोध में पालकोट बाजार बंद, आक्रोशितों ने सड़क जाम कर किया हंगामा, कई वाहनों के शीशे तोड़े

गुमला : भाजपा के पूर्व पालकोट मंडल अध्यक्ष सुमित केशरी का शनिवार को रांची के मेडिका अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया. चार दिन पहले दो अपराधियों ने सुमित केसरी का पालकोट स्थित ईट भट्ठा से अगवा कर गोली मारने के बाद पत्थर से कूचकर घायल कर दिया था।

Gumla News
भाजपा नेता सुमित केशरी की फ़ाइल फोटो

इधर, उनके निधन की खबर मिलते ही पालकोट के लोगों में कोहराम मच गया। सभी दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे। सभी लोग सड़क पर उतर गए और राउरकेला-गुमला एनएच 143 को जाम कर दिया। इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुईं। इस दौरान शरारती तत्वों ने कई वाहनों के शीशे भी तोड़ दिए।

सड़क पर जाम की सूचना पर बसिया एसडीओ संजय पीएम कुजूर, एसडीपीओ विकास आनंद लागुरी व अभियान एसपी मनीष कुमार वहां पहुंचे और प्रदर्शनकारियों को जाम हटाने के लिए समझाते रहे, लेकिन लोग डीसी गुमला को बुलाने की मांग पर अड़े रहे। मौके पर लोगों ने एसडीओ संजय पीएम कुजूर को मांग पत्र सौंपा।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मांग पत्र में हत्यारों को अविलंब गिरफ्तार करने, मृतक के परिवार को सुरक्षा प्रदान करने, मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी देने, मृतक के आश्रितों को एक करोड़ मुआवजा देने की मांग की गयी है तथा मृतक के दोनों बच्चों की शिक्षा की समुचित व्यवस्था करना शामिल है।

आपको बता दें कि सुमित केशरी 9 जनवरी की रात पालकोट स्थित अपने फ्लाई ऐश प्लांट में थे। करीब साढ़े नौ बजे दो अज्ञात हथियारबंद बदमाशों ने उसका अपहरण कर लिया और गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। गंभीर हालत में उसे रांची के मेडिका अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां शनिवार सुबह पौने ग्यारह बजे उसकी मौत हो गयी।

गुमला एसपी के निर्देश पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विकास आनंद लागुड़ी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है, लेकिन पुलिस के हाथ अभी खाली हैं। सभी सुमित के ठीक होने का इंतजार कर रहे थे।

gumla bjp neta news