Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

रांची: गैस रिफिलिंग की दुकान में रखे सिलेंडर में हुए विस्फोट से चार दुकानें जलकर राख

रांचीः राजधानी रांची के एचबी रोड के थड़पखना इलाके में गैस रिफिलिंग की दुकान में रखे सिलेंडर में विस्फोट होने से आग लग गयी। रविवार की सुबह सिलेंडर फटने से हुए धमाकों से पूरा इलाका दहल उठा।

दरअसल, लालपुर थाना क्षेत्र के प्लाजा चौक के पास एक गैस की दुकान में आग लगने से एक के बाद एक चार सिलेंडर फट गए। सिलेंडर फटने से आग ने विकराल रूप ले लिया और गैस की दुकान के पास स्थित अन्य तीन दुकानों को भी अपनी चपेट में ले लिया।

दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंचने से पहले ही चारों दुकानें जलकर राख हो गई। इस भीषण हादसे में एक गैस की दुकान, एक किराना, एक आइसक्रीम पार्लर और एक प्लास्टिक की वस्तु की दुकान जल कर राख हो गयी। आग से दुकानदारों को लाखों का नुकसान हुआ है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि रविवार की सुबह सभी सप्तमी की पूजा में व्यस्त थे, तभी अचानक एक के बाद एक चार धमाके हुए। लोग दहशत में आ गए कि ये धमाका क्या है। घरों से बाहर निकलने पर पता चला कि गैस की दुकान में सिलेंडर फट गया है। आनन-फानन में पुलिस कंट्रोल रूम और फायर कंट्रोल रूम को आग लगने की सूचना दी गयी।

20 मिनट बाद ही दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंची, लेकिन आग इतनी भीषण थी कि चारों दुकानें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयीं। एक घंटे की मशक्कत के बाद दमकल की दो गाड़ियों ने आग पर काबू पाया।

इस आग में चार दुकानें जलकर खाक हो गईं। जिन दुकानदारों की दुकानें जल गयीं। उन्होंने बताया कि उन्होंने दुर्गा पूजा के लिए ढेर सारे खिलौने, आइसक्रीम और अन्य चीजों का आर्डर दिया था। उम्मीद की जा रही थी कि दो साल बाद शानदार बिक्री होगी, जिससे पहले के नुकसान से उबरने में मदद मिलेगी। लेकिन आग ने उनके सपनों को जला दिया।