Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Tuesday, April 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरकोल्हान प्रमंडलझारखंड

झारखंड: डायन-बिसाही के आरोप में हुई थी एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या, पांच आरोपी गिरफ्तार

Jharkhand Latest News Today

पश्चिमी सिंहभूम : जिले के हाटगम्हरिया थाना क्षेत्र के नुरदा गांव के टुंगूवासा में पारिवारिक विवाद में दो बच्चों समेत चार लोगों को हत्या की गयी थी। मामले में पुलिस ने कार्रवाई हुए पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पारिवारिक विवाद में देवर और चाचा ससुर ने इस हत्या को अंजाम दिया था।

एसपी आशुतोष शेखर ने रविवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में मंगल सिंह सिंकु, मोटरा सिंकु, जोगेन सिंकु, सोमा सिंकु और टुपरा सिंकु शामिल हैं। उन्होंने बताया कि हत्या की इस घटना को आत्महत्या का रूप देने की कोशिश की गयी थी, जिसकी वजह से शव को रेल की पटरी पर फेंक दिया गया था। पांच लोगों ने इस सामूहिक हत्या को अंजाम दिया है। पुलिस ने चार आरोपितों की गिरफ्तारी शनिवार रात में ही कर ली थी जबकि एक की गिरफ्तारी रविवार को की गयी है। आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

गौरतलब है कि डायन-बिसाही के आरोप में एक ही परिवार के चार लोगों की सामूहिक हत्या को अंजाम देकर शवों को ईलीगाड़ा के पास रेल पटरी पर फेंका दिया गया था। शनिवार की सुबह सभी का शव मिले थे। मृतकों में महिला रोयबारी सिंकू व उसके चार साल के बेटा और छह माह की बेटी की पहचान हुई थी। एक अन्य व्यक्ति के शव की पहचान अभी नहीं हो पायी है। घटना के दौरान मृतका की एक सात साल की बेटी किसी तरह आरोपियों के चंगुल से भागकर बड़े चाचा के पास जा पहुंची तो उसकी जान बच गयी थी। तब घटना का खुलासा हुआ।

Jharkhand Latest News Today