Breaking :
||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड कैबिनेट की बैठक 19 जून को, लिये जायेंगे कई अहम फैसले||रजरप्पा को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में किया जाये विकसित, कार्ययोजना करें तैयार : मुख्यमंत्री||झारखंड में IPS अधिकारियों का ट्रांसफर-पोस्टिंग||पलामू में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा फेंके जाने से तनाव, इलाका पुलिस छावनी में तब्दील||JBKSS प्रमुख जयराम महतो ने की विधानसभा चुनाव में 55 सीटों पर लड़ने की घोषणा||मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराने वाली टीम को DGP ने किया सम्मानित, कहा- मुख्य धारा में लौटें, अन्यथा मारे जायेंगे||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
Wednesday, June 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: अदालत ने हत्या के चार दोषियों को सुनायी सश्रम आजीवन कारावास की सजा

पलामू : पलामू जिला व्यवहार न्यायालय के तृतीय जिला व अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश शंकर कुमार महराज की अदालत ने हत्या के चार दोषियों को सश्रम आजीवन कारावास की सजा सुनायी हैं। सजा पाने वाले में चैनपुर थाना अंतर्गत गुरहा निवासी गुड़ु पासी, रामावतार पासी, महेश पासी, सुनीता देवी शामिल हैं।

चैनपुर थाना क्षेत्र के गुरहा के विकास कुमार पासी के फर्द बयान पर उक्त चार लोगों के विरुद्ध चैनपुर थाना में कांड संख्या 468/2020, दिनांक 20 दिसंबर 2020 को नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। आरोप था कि अभियुक्तों का मृतक अजय राम पासी से रास्ता की जमीन को लेकर विवाद था। उसके संबंध में पूर्व में गाली गलौज एवं झगड़ा हुआ था। 19 दिसम्बर 2020 को अजय राम पासी मजदूरी के लिए गया था, लेकिन देर शाम तक वह वापस नहीं लौटा तो उसका पुत्र विकास कुमार पासी तथा पत्नी गीता देवी खोजने के लिए निकले, लेकिन उस दिन उसका पता नहीं चला।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

20 दिसंबर को विकास और उसकी मां सुबह से ही अजय को ढूढ रहे थे। इसी क्रम में डुमरिया बांध पर पहुंचे तो देखा कि अजय का शव वहां पड़ा है तथा ललाट पर चोट लगा हुआ था। उसके गर्दन के दाहिने तरफ जख्म के निशान थे।

अजय राम पासी की हत्या टांगी से काटकर की गयी थी तथा शव छुपाने के उद्देश्य से डुमरिया बांध के पास ले जाकर फंेक दिया गया था। अदालत ने साक्ष्य के आधार पर दोषी पाते हुए चारो आरोपी को 302/34 में सश्रम आजीवन कारावास की सजा व साढ़े सात हजार रुपये सभी को जुर्माने की सजा भी सुनायी है। वही 201/34 में पांच वर्ष की सजा व पांच पांच हजार रुपए जुर्माना लगाया है। जुर्माना की राशि नहीं देने पर दो माह अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।

Palamu Latest News Today