Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

सदन की कार्यवाही बाधित करने के आरोप में भाजपा के चार विधायक निलंबित

रांची : झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र के तीसरे दिन आज स्पीकर रवींद्र नाथ महतो ने चार विधायकों को सदन की कार्यवाही से 4 अगस्त तक के लिए निलंबित कर दिया है। इनमें जयप्रकाश भाई पटेल, रणधीर सिंह, भानु प्रताप शाही और ढुल्लू महतो शामिल हैं। इन पर सदन की कार्यवाही में बाधा डालने का आरोप है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दरअसल, सदन की कार्यवाही शुरू होते ही भाजपा विधायक सरकार विरोधी नारे लगाने लगे। सदन के प्रश्नकाल की शुरुआत सरयू राय के हरमू नदी से संबंधित प्रश्न से हुई। उसके बाद भाजपा के अनंत ओझा ने शुक्रवार को सरकारी स्कूलों को बंद करने पर सवाल उठाया। इसका जवाब देते हुए मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि यह मामला सरकार के संज्ञान में आते ही कार्रवाई की गई है।

इस दौरान भाजपा सदस्य मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के इस्तीफे की मांग को लेकर नारेबाजी करते रहे। लगातार नारेबाजी करते हुए विपक्षी भाजपा के सदस्य वेल में चले गए।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

स्पीकर ने उन्हें शांत करने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि कल पूरे देश ने उन लोगों के आचरण को देखा, भाई आज भी विपक्षी सदस्य उसी तरह हंगामा कर रहे हैं। उन्हें विरोध करने के लिए शब्दों का प्रयोग करना चाहिए लेकिन उनकी वजह से अन्य पार्टी के लोग भी प्रभावित हो रहे हैं। स्पीकर ने कहा कि ऐसा नहीं किया जाना चाहिए जिससे दूसरे लोगों को भी बुरा लगे।

जब अध्यक्ष के बार-बार विपक्षी सदस्यों के प्रयास सफल नहीं हुए, तो उन्होंने भाजपा के चार सदस्यों को निलंबित करने का निर्देश दिया।