Breaking :
||लातेहार: लापरवाह वाहन चालक हो जायें सावधान! कल से पुलिस चलायेगी जिलेभर में सघन वाहन चेकिंग अभियान||झारखंड की नाबालिग लड़की के साथ अमानवीय व्यवहार करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री ने दिये सख्त कार्रवाई के आदेश||लातेहार: बालूमाथ में ट्यूशन पढ़ाकर घर लौट रहे शिक्षक की सड़क दुर्घटना में मौत||हेमंत सरकार ने खिलाड़ियों के सर्वांगीण विकास को लेकर की जोहार खिलाड़ी स्पोर्ट्स इंटीग्रेटेड पोर्टल की शुरुआत, खिलाड़ियों की समस्याओं के निराकरण में होगा सहायक||रामगढ़, चतरा व लातेहार में कोयला कारोबारियों पर जानलेवा हमला करने वाले TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, एक लातेहार का||अब राज्य के सरकारी शिक्षकों को ‘लीव मैनेजमेंट मॉड्यूल’ के माध्यम से ही मिलेगी छुट्टी, अन्य माध्यमों से दिये गये आवेदन होंगे रद्द||लातेहार: बालूमाथ में हुई विवाहिता हत्याकांड का खुलासा, चार अभियुक्तों ने मिलकर की थी बेरहमी से हत्या||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान

सदन की कार्यवाही बाधित करने के आरोप में भाजपा के चार विधायक निलंबित

रांची : झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र के तीसरे दिन आज स्पीकर रवींद्र नाथ महतो ने चार विधायकों को सदन की कार्यवाही से 4 अगस्त तक के लिए निलंबित कर दिया है। इनमें जयप्रकाश भाई पटेल, रणधीर सिंह, भानु प्रताप शाही और ढुल्लू महतो शामिल हैं। इन पर सदन की कार्यवाही में बाधा डालने का आरोप है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दरअसल, सदन की कार्यवाही शुरू होते ही भाजपा विधायक सरकार विरोधी नारे लगाने लगे। सदन के प्रश्नकाल की शुरुआत सरयू राय के हरमू नदी से संबंधित प्रश्न से हुई। उसके बाद भाजपा के अनंत ओझा ने शुक्रवार को सरकारी स्कूलों को बंद करने पर सवाल उठाया। इसका जवाब देते हुए मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि यह मामला सरकार के संज्ञान में आते ही कार्रवाई की गई है।

इस दौरान भाजपा सदस्य मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के इस्तीफे की मांग को लेकर नारेबाजी करते रहे। लगातार नारेबाजी करते हुए विपक्षी भाजपा के सदस्य वेल में चले गए।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

स्पीकर ने उन्हें शांत करने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि कल पूरे देश ने उन लोगों के आचरण को देखा, भाई आज भी विपक्षी सदस्य उसी तरह हंगामा कर रहे हैं। उन्हें विरोध करने के लिए शब्दों का प्रयोग करना चाहिए लेकिन उनकी वजह से अन्य पार्टी के लोग भी प्रभावित हो रहे हैं। स्पीकर ने कहा कि ऐसा नहीं किया जाना चाहिए जिससे दूसरे लोगों को भी बुरा लगे।

जब अध्यक्ष के बार-बार विपक्षी सदस्यों के प्रयास सफल नहीं हुए, तो उन्होंने भाजपा के चार सदस्यों को निलंबित करने का निर्देश दिया।