Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Saturday, April 20, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

रांची: महिला से ठगी के चार आरोपी गिरफ्तार, ठगे थे एक करोड़ 12 लाख रुपये

रांची : रांची के सुखदेव नगर थाना पुलिस ने एक करोड़ 12 लाख की ठगी मामले में चार साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार साइबर अपराधियों में नवादा बिहार निवासी ज्योतिष कुमार, मोहन कुमार, अजीत कुमार और सुखदेव नगर थाना क्षेत्र के इरगु टोली निवासी नीरज कुमार शामिल है। गिरफ्तार साइबर अपराधियों के पास से 85 एटीएम कार्ड, 23 स्मार्ट फोन, 18 बैंक पासबुक, एक मॉडम, करीब एक लाख रुपया नगद, दो कार, तीन बाइक, एक लाख 39 हजार नगद बरामद किया गया है।

सिटी एसपी राजकुमार मेहता ने रविवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि अपराध शाखा एर्नाकुलम केरल में 26 जुलाई को शोभा मेनन ने एफआईआर दर्ज कराया था। दर्ज एफआईआर में बताया गया था कि डेढ़ करोड़ की लॉटरी लगने के नाम पर कॉल कर महिला से एक करोड़ 12 लाख की ठगी की गयी है।

अपराध शाखा एर्नाकुलम केरल के पदाधिकारी और सुखदेव नगर थाना पुलिस एवं तकनीकी शाखा की संयुक्त टीम ने छापेमारी कर चारों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार अपराधियों ने बताया कि लोगों को लॉटरी निकालने और अन्य तरह के प्रलोभन का झांसा देकर साइबर ठगी करते हैं।

अपराधियों ने बताया कि ठगी का पैसा अकाउंट में ट्रांसफर करने के लिए विभिन्न राज्यों में जाली कागजातों के आधार पर बैंक अकाउंट खुलवाते हैं। इन्हीं अकाउंट में ठगी का पैसा ट्रांसफर करवा कर रांची के विभिन्न एटीएम से पैसे की निकासी करते हैं। इस गिरोह के कुछ सदस्य विभिन्न राज्यों में अकाउंट खुलवाकर प्रति बैंक अकाउंट 20 हजार अतिरिक्त पैसा लेते हैं। एक माह में इन अपराधियों की ओर से ठगी का करीब 70 से 75 लाख रुपए की निकासी इनके पास से बरामद बैंक खाता से किया गया है।

Ranchi Latest News Today