Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: पूर्व जिला परिषद उपाध्यक्ष राजेंद्र साहू हत्याकांड का खुलासा, शूटर समेत चार उग्रवादी गिरफ्तार

Rajendra Sahu Balumath Murder Case

पैसों के लेनदेन को लेकर TSPC के जोनल कमांडर आक्रमण गंझू के इशारे पर उग्रवादियों ने मारी थी गोली

लातेहार : लातेहार के पूर्व जिला परिषद उपाध्यक्ष और कोयला व्यवसायी भाजपा नेता राजेंद्र प्रसाद साहू हत्याकांड का पुलिस ने शनिवार को खुलासा कर दिया। पुलिस ने हत्याकांड में शामिल दो शूटर समेत चार उग्रवादियों को गिरफ्तार कर लिया है।

गिरफ्तार उग्रवादियों में गढ़वा जिले के रहने वाले शूटर जितेंद्र विश्वकर्मा और शिवपूजन सिंह तथा गढ़वा निवासी अश्विनी कुमार सिंह और बालूमाथ के सेमरसोत गांव निवासी कुलदीप गंझू शामिल हैं, जो घटना की योजना बनाने में शामिल थे। पुलिस ने इनके पास से चार पिस्तौल, 30 जिंदा गोलियां, चार मैग्जीन, एक अपाची बाइक, चार मोबाइल फोन और कई अन्य सामान भी बरामद किये हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में लातेहार एसपी अंजनी अंजन ने बताया कि राजेंद्र साहू का उग्रवादी संगठन टीएसपीसी से पैसे के लेनदेन को लेकर कुछ विवाद चल रहा था। इस मामले को लेकर टीएसपीसी के जोनल कमांडर आक्रमण गंझू के कहने पर टीएसपीसी संगठन से जुड़े जितेंद्र विश्वकर्मा और शिवपूजन सिंह ने राजेंद्र साहू की रेकी करना शुरू कर दिया। जितेंद्र और शिवपूजन शूटर भी थे। इस पूरी योजना में अश्विनी कुमार सिंह और कुलदीप भी शामिल थे।

12 अगस्त को दोनों शूटर बालूमाथ स्थित राजेंद्र साहू के निजी कार्यालय के पास रेकी कर रहे थे। जब राजेंद्र साहू की नजर उन पर पड़ी तो दोनों शूटर बाइक से भागने लगे। राजेंद्र साहू ने अपनी स्कूटी पर बैठकर दोनों का पीछा किया था। इसी बीच मौका देखकर शूटरों ने राजेंद्र साहू को चार गोलियां मार दीं।

एसपी ने बताया कि इस काम के लिए शूटर को आक्रमण गंझू ने 50 हजार की रकम भी दी थी। उन्होंने बताया कि जांच में पुलिस को कई अन्य महत्वपूर्ण जानकारी भी मिली है। इसके आधार पर पुलिस आगे की जांच कर रही है।

इसे भी पढ़ें :- BREAKING: नहीं रहे पूर्व जिला परिषद उपाध्यक्ष सह कोयला कारोबारी राजेंद्र प्रसाद साहू

इस हत्या कांड के उद्भेदन में बालूमाथ एसडीपीओ अजीत कुमार, पुलिस इंस्पेक्टर शशि रंजन कुमार, बालूमाथ थाना प्रभारी प्रशांत प्रसाद, हेरहंज थाना प्रभारी शुभम कुमार, मनिका थाना प्रभारी राणा भानु प्रताप सिंह, बरवाडीह थाना प्रभारी श्रीनिवास सिंह, सब इंस्पेक्टर नीतीश कुमार, कुबेर साव, धीरज कुमार, कैलाश बाड़ा, धर्मेंद्र कुमार महतो, राजकुमार तिग्गा समेत अन्य पुलिस अधिकारियों की भूमिका महत्वपूर्ण रही।

Rajendra Sahu Balumath Murder Case