Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, मायके वालों ने लगाया हत्या का आरोप||लातेहार: मनिका में सड़क निर्माण स्थल पर उग्रवादियों का हमला, JCB मशीन में लगायी आग||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान

हमले में घायल जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे का निधन, सभा को संबोधित करने के दौरान मारी गयी थी गोली, पीएम ने जताया दुःख

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की गोली लगने से मौत की खबर से दुनिया स्तब्ध है। उनके आकस्मिक निधन पर पीएम नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। पीएम ने ट्वीट कर कहा कि उनके और मेरे बीच कई सालों से संबंध थे। मैं उन्हें तब से जानता हूं जब गुजरात का सीएम था। पीएम ने अपने ट्वीट में 9 जुलाई को राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है।

नारा शहर में शुक्रवार सुबह एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शिंजो आबे को एक शख्स ने पीछे से गोली मार दी। हमले में आबे को सीने में दो गोलियां लगी थीं। करीब 6 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद भी डॉक्टर आबे को नहीं बचा सके। तब उनकी मृत्यु की आधिकारिक अधिसूचना जारी की गई थी। आबे के आकस्मिक निधन से दुनिया शोक में है। पीएम मोदी ने भी आबे के प्रति गहरा सम्मान जताया और उनके निधन पर दुख जताया।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कल यानी 9 जुलाई को राष्ट्रीय शोक दिवस की घोषणा की है. जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे के निधन पर पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘मिस्टर आबे के साथ मेरा जुड़ाव कई साल पुराना है। मैं उन्हें गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान जानता था और मेरे पीएम बनने के बाद भी हमारी दोस्ती जारी रही। अर्थव्यवस्था और वैश्विक मामलों पर उनकी तीक्ष्ण अंतर्दृष्टि ने मुझ पर हमेशा गहरी छाप छोड़ी है।

पीएम मोदी ने आगे लिखा, ‘श्री आबे ने भारत-जापान संबंधों को एक विशेष रणनीतिक और वैश्विक साझेदारी के स्तर तक ले जाने में बहुत बड़ा योगदान दिया है। आज पूरा भारत जापान के साथ शोक मनाता है और हम इस कठिन समय में अपने जापानी भाइयों और बहनों के साथ खड़े हैं।

मालूम हो कि 67 वर्षीय शिंजो आबे जापान के सबसे लंबे समय तक सेवा देने वाले पीएम थे। वह 2006 से 2007 तक और फिर 2012 से 2020 तक पीएम रहे। उनके दादा भी जापान के प्रधानमंत्री थे और फिर उनके पिता जापान के विदेश मंत्री थे। उधर, पुलिस ने आबे पर हमला करने वाले शख्स को फौरन गिरफ्तार कर लिया। 41 वर्षीय आरोपी की पहचान तेत्सुया यामागामी के रूप में हुई है।