Breaking :
||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची||लातेहार जिले के लिए गौरव भरा पल…राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर राज्यपाल ने डीसी को किया सम्मानित||पलामू में अंतरराज्यीय गिरोह के नौ अपराधी गिरफ्तार, दो करोड़ की रंगदारी मांगने सहित आधा दर्जन मामलों का खुलासा||25 लाख के इनामी माओवादी नवीन यादव ने किया आत्मसमर्पण, 100 से अधिक बड़े नक्सली हमलों में रहा है शामिल||मतदाता सूची सुधार एवं आधार प्रमाणीकरण कार्य में लातेहार जिला झारखंड में अव्वल, डीसी होंगे सम्मानित||पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया PLFI का एरिया कमांडर, हथियार बरामद

लातेहार: छेड़छाड़ के आरोप में पूर्व सिविल सर्जन गिरफ्तार, भेजा गया जेल

जुगनू/लातेहार

लातेहार : छेड़छाड़ के आरोपी पूर्व सिविल सर्जन डॉ हरेंचन्द महतो को लातेहार पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इसकी पुष्टि जिले के पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन ने की है।

गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने डॉ महतो को पोस्को कोर्ट मे पेश किया गया। कोर्ट ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजने का निर्देश दिया। जिसके बाद पुलिस अभिरक्षा में उन्हें जेल भेज दिया गया।

पूर्व सिविल सर्जन डॉ हरेनचंद्र महतो

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

आपको बता दें कि पूर्व सिविल सर्जन डॉ हरेनचंद्र महतो पर दो युवतियों ने अल्ट्रासाउंड के बहाने अश्लील हरकत करने का आरोप लगाया था। शिकायत के बाद सिविल सर्जन के खिलाफ पोस्को और भारतीय दंड संहिता की 354A व 354B के तहत कांड संख्या 19/2022 दर्ज किया गया था।

वहीं आरोपी सिविल सर्जन की गिरफ्तारी नहीं होने से स्थानीय लोग भी काफी आक्रोशित थे। गिरफ्तारी की मांग को लेकर आक्रोशित लोगों ने गुरुवार को जिला मुख्यालय में एनएच 75 को एक घंटे के लिए जाम भी कर दिया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

ज्ञात हो कि नामकुम में स्वास्थ्य उप निदेशक के पद पर एक दिन पहले डॉ महतो का तबादला किया गया था। लेकिन उनके कार्यभार संभालने से पहले ही उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।