Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Tuesday, April 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

‘राम’ की पार्टी में ‘सीता’! भाजपा में शामिल हुईं पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की भाभी सीता सोरेन

Sita Soren joins BJP

रांची : लोकसभा चुनाव से पहले झारखंड में शिबू सोरेन को अपने परिवार में बड़ी फूट का सामना करना पड़ा है। शिबू सोरेन की बड़ी बहू और पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की भाभी सीता सोरेन ने JMM का साथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया है। भाजपा ज्वाइन करते हुए सीता सोरेन ने पीएम मोदी की जमकर तारीफ की।

सीता सोरेन ने कहा कि वह मोदी जी की सोच से प्रभावित होकर भाजपा में शामिल हो रही हैं। उन्होंने कहा कि मेरे ससुर शिबू सोरेन और मेरे स्वर्गीय पति दुर्गा सोरेन ने झारखंड को अलग राज्य बनाने के लिए संघर्ष किया था। मेरे पति का सपना था कि झारखंड का विकास हो, लेकिन आज उनका सपना चकनाचूर हो रहा है। उन्होंने कहा कि अब मैं मोदी जी के परिवार में आ गयी हूं। अब मोदी जी के नेतृत्व में अपने पति का सपना पूरा करूंगी।

सीता सोरेन ने दावा किया कि झारखंड की सभी 14 लोकसभा सीटें भाजपा जीतेगी। झारखंड को झुकायेंगे नहीं, झारखंड को बचायेंगे। भाजपा नेता विनोद तावड़े और झारखंड के पार्टी प्रभारी लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने सीता सोरेन को पार्टी की सदस्य्ता दिलायी। इस दौरान विनोद तावड़े ने कहा कि पार्टी में सीता सोरेन के आने से ताकत बढ़ी है। आने वाले दिनों में इसका असर दिखेगा। आदिवासी समाज के हित की योजनाओं में और ताकत मिलेगी। बहन सीता सोरेन का स्वागत करता हूं। पूरी टीम के साथ झारखंड में आदिवासियों के विकास में अपना योगदान देंगी।

वहीं लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने कहा कि सीता सोरेन का स्वागत करता हूं। झारखंड में जेएमएम में रहते हुए वह भ्रष्टाचार के खिलाफ संघर्ष, कोयला खदानों में चोरी के खिलाफ दिल्ली तक आवाज उठाती रही हैं। सीता सोरेन से सहयोग मिलेगा।

आपको बता दें कि सीता सोरेन ने आज (मंगलवार, 19 मार्च) सुबह ही JMM से इस्तीफा दे दिया था। पार्टी छोड़ते वक्त उन्होंने एक बड़ा ही भावुक पत्र जारी किया था। जिसमें उन्होंने लिखा था कि मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ गहरी साजिश रची जा रही है। उन्होंने कहा कि मैं झारखंड मुक्ति मोर्चा की केंद्रीय महासचिव और सक्रिय सदस्य हूं। वर्तमान में पार्टी की विधायक हूं। अत्यंत दुखी हृदय के साथ अपना इस्तीफा दे रही हूं।

उन्होंने आगे लिखा था कि मेरे स्वर्गीय पति दुर्गा सोरेन झारखंड आंदोलन के अग्रणी योद्धा और महान क्रांतिकारी थे। उनके निधन के बाद से ही मैं और मेरा परिवार लगातार उपेक्षा का शिकार रहे हैं। पार्टी और परिवार के सदस्यों द्वारा हमें अलग-थलग किया गया है, जो मेरे लिए अत्यंत पीड़ादायक रहा है। बता दें कि सीता सोरेन झारखंड की जामा सीट से विधायक थी। पार्टी से इस्तीफा देने के कुछ ही देर बाद उन्होंने विधायक पद से भी इस्तीफा दे दिया।

गौरतलब है कि सीता मुर्मू सोरेन झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रमुख शिबू सोरेन की बहू, पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की भाभी और दिवंगत दुर्गा सोरेन की पत्नी हैं। झारखंड की जामा विधानसभा क्षेत्र से वह विधायक चुनी गयीं थीं। पार्टी ने उन्हें राष्ट्रीय महासचिव के रूप में नियुक्त किया था। इसके बाद 2014 में उन्होंने दोबारा चुनाव लड़ा और उसी सीट से दोबारा विधायक बनीं। साल 2019 में जामा विधानसभा सीट से तीसरी बार विधायक चुनी गयी।

Sita Soren joins BJP