Breaking :
||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत||बालूमाथ: शार्ट सर्किट से हाइवा वाहन में लगी आग, जलकर राख||बालूमाथ: महिला का अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ठगे सात लाख रुपये, गिरफ्तार||बालूमाथ: सरस्वती पूजा को लेकर निकाली गयी शोभायात्रा पर मधुमक्खियों का हमला, मची अफरा-तफरी||लातेहार: बालूमाथ में अवैध कोयला लदा पांच हाइवा जब्त, तीन गिरफ्तार||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित

पलामू में पांच लाख का इनामी माओवादी जोनल कमांडर गिरफ्तार, झारखंड-बिहार के विभिन्न थानों में दर्जनों मामले दर्ज

पलामू : जिले की छतरपुर थाना पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी का जोनल कमांडर और पांच लाख का इनामी रामप्रसाद यादव उर्फ प्रसाद जी उर्फ सुजीत जी उर्फ भंडारी को छतरपुर थाना की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार नक्सली पर पलामू समेत बिहार के विभिन्न थानों में दर्जनों मामले दर्ज हैं।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी के अनुसार छतरपुर थाना क्षेत्र के बगईया गांव निवासी नक्सली प्रसाद ने इस गांव में चल रही पत्थर की खदान के संचालक से लेवी की मांग की थी। इस दौरान सोमवार की रात पत्थर खदान के पोकलेन संचालक को कुछ ग्रामीणों के सहयोग से अगवा कर पीटा और लेवी के लिए दबाव बनाया। लेकिन, पुलिस को इसकी भनक लग गई। पुलिस ने तत्काल मोर्चा संभालते हुए पोकलेन संचालक को ग्रामीणों के चंगुल से मुक्त कराया।

पलामू प्रमंडल की ताज़ा ख़बरें यहाँ पढ़ें

सूत्रों ने बताया कि पत्थर खदान संचालक से लेवी की बात को लेकर नक्सली प्रसाद जी अपने पैतृक गांव आए थे। पलामू के एसपी चंदन कुमार सिन्हा को इसकी जानकारी थी। एसपी के निर्देश पर छतरपुर थाना प्रभारी शेखर कुमार के नेतृत्व में टीम गठित कर ढाब स्थित परिखा यादव के घर का घेराव कर नक्सली प्रसाद जी को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि पुलिस ने अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है।