Breaking :
||झारखंड में गर्मी से मिलेगी राहत, गरज के साथ बारिश के आसार, येलो अलर्ट जारी||चतरा, हजारीबाग और कोडरमा संसदीय क्षेत्र में मतदान कल, 58,34,618 मतदाता करेंगे 54 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला||चतरा लोकसभा: भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर, फैसला जनता के हाथ||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश||पलामू: हार्डकोर इनामी माओवादी नीतेश के दस्ते का सक्रिय सदस्य गिरफ्तार||लातेहार: 65 हेली ड्रॉपिंग बूथ के लिए शुभकामनायें लेकर मतदान कर्मी रवाना
Monday, May 20, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरमनिकालातेहार

मनिका: कंटेनर और कार की सीधी टक्कर में पांच घायल, अस्पताल में ड्यूटी से गायब थे डॉक्टर, तड़पते रहे मरीज

कौशल किशोर पांडेय/मनिका

लातेहार : मनिका में सड़क दुर्घटना के पांच मरीज अस्पताल में तड़पते रहे लेकिन उनका इलाज करने के लिए एक भी डॉक्टर मनिका अस्पताल में नहीं थे। बताते चलें कि सोमवार को अपराह्न 4:45 बजे सड़क दुर्घटना में घायल मरीज को पुलिस अस्पताल लेकर पहुंची थी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

आपको बता दें कि मनिका थाना क्षेत्र के रांची मेदिनीनगर पथ के डिग्री कॉलेज मोड़ के पास कंटेनर ट्रक और कार के सीधी टक्कर में कार पर सवार चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों में शिवेश घोष, देवेंद्र चंद्र मंडल, रंजीत पाल, विजय राणा, राजू सरकार खड़गपुर, बंगाल के रहने वाले हैं।

मिली जानकारी के अनुसार सभी लोग बेतला नेशनल पार्क घूमने आए थे और रांची वापस लौट रहे थे। इसी दौरान मनिका डिग्री कॉलेज के पास कंटेनर ट्रक ने कार में सीधी टक्कर मार दी। जिससे कार पर सवार सभी लोग घायल हो गए। घायल शिवेश का सिर फट गया, देवेंद्र चंद्र का पैर टूट गया और सिर फट गया, रंजीत पाल, विजय राणा और राजू सरकार को भी आंशिक चोटें आई हैं।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

थाना प्रभारी शुभम कुमार को सूचना मिलते ही उन्होंने एएसआई इंद्रजीत पासवान को दल बल के साथ घटना स्थल पर भेजा। पुलिस ने घायलों को मनिका अस्पताल में पहुंचाया जहां एक भी चिकित्सक नहीं रहने के कारण स्वास्थ्य कर्मियों ने उनका प्राथमिक उपचार किया। जिसके बाद सभी घायलों को बेहतर इलाज के लिए रांची रेफर कर दिया गया।

सीएस ने कहा कि डॉक्टर पर होगी कार्रवाई

सीएस डॉ दिनेश कुमार ने कहा कि मनिका अस्पताल में डॉक्टर का नहीं रहना गंभीर बात है। उन्होंने कहा कि किस डॉक्टर की ड्यूटी थी जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।