Breaking :
||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची||लातेहार जिले के लिए गौरव भरा पल…राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर राज्यपाल ने डीसी को किया सम्मानित||पलामू में अंतरराज्यीय गिरोह के नौ अपराधी गिरफ्तार, दो करोड़ की रंगदारी मांगने सहित आधा दर्जन मामलों का खुलासा||25 लाख के इनामी माओवादी नवीन यादव ने किया आत्मसमर्पण, 100 से अधिक बड़े नक्सली हमलों में रहा है शामिल||मतदाता सूची सुधार एवं आधार प्रमाणीकरण कार्य में लातेहार जिला झारखंड में अव्वल, डीसी होंगे सम्मानित||पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया PLFI का एरिया कमांडर, हथियार बरामद

हाईकोर्ट में 19 जनवरी को होगी नेतरहाट आवासीय विद्यालय नामांकन मामले की अंतिम सुनवाई

रांची : झारखंड हाई कोर्ट के जस्टिस राजेश शंकर की कोर्ट ने गुरुवार को नेतरहाट आवासीय विद्यालय में छठी कक्षा में चयनित बच्चों का स्वास्थ्य जांच के बाद नामांकन नहीं कराने को लेकर दायर याचिका पर सुनवाई की।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

सुनवाई के दौरान नेतरहाट स्कूल की ओर से जवाबी हलफनामा दाखिल करने के लिए दो सप्ताह का समय मांगा गया। इस पर कोर्ट ने जल्द जवाबी हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही मामले की अंतिम सुनवाई के लिए 19 जनवरी की तिथि निर्धारित की गयी है।

पिछली सुनवाई में कोर्ट ने नेतरहाट आवासीय विद्यालय को नोटिस जारी किया था। याचिकाकर्ता की ओर से अधिवक्ता शुभाशीष रसिक सोरेन ने पैरवी की। मामले को लेकर सुमित राय समेत तीन अन्य ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है।

ज्ञात हो कि याचिकाकर्ता का नेतरहाट आवासीय विद्यालय में कक्षा छठी में नामांकन के लिए चयन किया गया है। नामांकन से पहले स्कूल ने रांची सदर अस्पताल में बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया। डॉक्टरों ने बताया कि इन बच्चों की उम्र 13 से 14 साल के बीच है। इस आधार पर स्कूल ने इन बच्चों को दाखिला देने से मना कर दिया। सरकार से प्राप्त जन्म प्रमाण पत्र में उसकी आयु 12 वर्ष से कम बतायी गयी है। याचिकाकर्ता ने नामांकन नहीं लेने को हाईकोर्ट में चुनौती दी है।