Breaking :
||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड कैबिनेट की बैठक 19 जून को, लिये जायेंगे कई अहम फैसले||रजरप्पा को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में किया जाये विकसित, कार्ययोजना करें तैयार : मुख्यमंत्री||झारखंड में IPS अधिकारियों का ट्रांसफर-पोस्टिंग||पलामू में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा फेंके जाने से तनाव, इलाका पुलिस छावनी में तब्दील||JBKSS प्रमुख जयराम महतो ने की विधानसभा चुनाव में 55 सीटों पर लड़ने की घोषणा||मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराने वाली टीम को DGP ने किया सम्मानित, कहा- मुख्य धारा में लौटें, अन्यथा मारे जायेंगे||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
Wednesday, June 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड में पांचवें चरण का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न, आचार संहिता उल्लंघन के सात मामले दर्ज

झारखंड पांचवें चरण का चुनाव

रांची : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के. रवि कुमार ने कहा है कि पांचवें चरण का चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया है। मतदानकर्मी इवीएम स्ट्रांग रूम में जमा करने के लिए मतदान केंद्रों से वापस लौटने लगे हैं।

उन्होंने बताया कि तीन संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में संपन्न मतदान का अनुमानित वोट प्रतिशत 63 रहा है। उसमें सबसे अधिक अनुमानतः 64.32 प्रतिशत मतदान हजारीबाग में हुआ है। वहीं चतरा में मतदान प्रतिशत 62.96 रहा है। जबकि सबसे कम 61.86 प्रतिशत मतदान कोडरमा संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में हुआ है। दूसरी ओर गांडेय विधानसभा उपचुनाव में वोट प्रतिशत 68.26 रहा है।

उन्होंने बताया कि यह आंकड़ा शाम पांच बजे तक का है। कुछ जगहों पर शाम पांच बजे के बाद भी मतदान की प्रक्रिया जारी थी। पोस्टल बैलट आदि की संख्या जुड़ने के बाद वोट प्रतिशत कुछ बढ़ेगा। वह सोमवार को निर्वाचन सदन, धुर्वा में राज्य पुलिस मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी नोडल पदाधिकारी एवी होमकर के साथ संयुक्त रूप से प्रेस वार्ता कर रहे थे।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि मतदान के दौरान तीनों संसदीय क्षेत्रों से जुड़े सात जिलों में आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के सात मामले दर्ज किये गये हैं। उसमें पलामू में 2, लातेहार में 2, हजारीबाग में 2 और गिरिडीह में एक एफआइआर हुआ है। उन्होंने बताया कि राज्य में चुनाव लड़ रहे 244 उम्मीदवारों में से 66 पर आपराधिक मामले दर्ज हैं।

राज्य पुलिस नोडल पदाधिकारी एवी होमकर ने बताया कि तीन संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में शातिपूर्ण मतदान के लिए अर्द्धसैनिक बल और झारखंड पुलिस के कुल 44 हजार जवानों की तैनाती की गयी थी। तीनों लोकसभा क्षेत्रों की सीमा तीन राज्यों पश्चिम बंगाल, बिहार और छत्तीसगढ़ से जुड़ने के कारण संबंधित राज्यों से समन्वय बनाते हुए सीमा पर लगातार चौकसी की गयी। नक्सली गतिविधियों को पूरी तरह बाधित किया गया और लोगों को भयमुक्त वातावरण में मतदान के लिए प्रोत्साहित किया गया। उन्होंने बताया कि पोलिंग पार्टी के वापस लौटते वक्त भी सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की गयी है। पुलिस के वरीय अधिकारी फील्ड में बने हुए हैं।

झारखंड पांचवें चरण का चुनाव