Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Thursday, June 13, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

नियोजन नीति को लेकर जमकर बवाल, विधानसभा मार्च पर निकले छात्रों पर पुलिस ने बरसायी लाठियां, दागे आंसू गैस के गोले

रांची : विधानसभा सत्र के अंतिम दिन गुरुवार को नियोजन नीति में विसंगतियों को लेकर छात्रों ने विधानसभा मार्च निकाला। छात्रों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी दागे। उधर, आक्रोशित छात्रों ने राज्य सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर के काफिले पर पानी की बोतल फेंक दी।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

झारखंड यूथ एसोसिएशन और झारखंड छात्र संघ के बैनर तले राज्य भर से आये छात्रों को रोकने के लिए पुलिस ने विधानसभा की ओर जाने वाले सभी रास्तों की घेराबंदी कर दी। हालांकि, जगन्नाथ मंदिर की तरफ के छात्रों ने बैरिकेड्स तोड़ दिये और आगे बढ़ने की कोशिश की। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखायीं। वहीं लाठीचार्ज से आक्रोशित छात्रों ने पुलिस पर पथराव भी शुरू कर दिया। काफी देर तक हंगामा होता रहा।

जानकारी के अनुसार आधा दर्जन छात्रों के साथ कुछ पुलिसकर्मी भी घायल हो गये। हंगामे की सूचना पर भारी संख्या में पुलिस बल भेजा गया। हालांकि स्थिति नियंत्रण में है।

बता दें कि शहीद मैदान में प्रदेश भर से करीब 500 छात्र जमे थे। इसके बाद नारेबाजी करते हुए जगन्नाथ मंदिर पहुंचे। पुलिस ने जब तक उन्हें रोकने की कोशिश की, तो वे बेरिकेड्स तोड़कर विधानसभा की ओर बढ़ने लगे. हालांकि पुलिस ने समय रहते छात्रों को रोक लिया।

Jharkhand planning policy 2023