Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

नियोजन नीति को लेकर जमकर बवाल, विधानसभा मार्च पर निकले छात्रों पर पुलिस ने बरसायी लाठियां, दागे आंसू गैस के गोले

रांची : विधानसभा सत्र के अंतिम दिन गुरुवार को नियोजन नीति में विसंगतियों को लेकर छात्रों ने विधानसभा मार्च निकाला। छात्रों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी दागे। उधर, आक्रोशित छात्रों ने राज्य सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर के काफिले पर पानी की बोतल फेंक दी।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

झारखंड यूथ एसोसिएशन और झारखंड छात्र संघ के बैनर तले राज्य भर से आये छात्रों को रोकने के लिए पुलिस ने विधानसभा की ओर जाने वाले सभी रास्तों की घेराबंदी कर दी। हालांकि, जगन्नाथ मंदिर की तरफ के छात्रों ने बैरिकेड्स तोड़ दिये और आगे बढ़ने की कोशिश की। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखायीं। वहीं लाठीचार्ज से आक्रोशित छात्रों ने पुलिस पर पथराव भी शुरू कर दिया। काफी देर तक हंगामा होता रहा।

जानकारी के अनुसार आधा दर्जन छात्रों के साथ कुछ पुलिसकर्मी भी घायल हो गये। हंगामे की सूचना पर भारी संख्या में पुलिस बल भेजा गया। हालांकि स्थिति नियंत्रण में है।

बता दें कि शहीद मैदान में प्रदेश भर से करीब 500 छात्र जमे थे। इसके बाद नारेबाजी करते हुए जगन्नाथ मंदिर पहुंचे। पुलिस ने जब तक उन्हें रोकने की कोशिश की, तो वे बेरिकेड्स तोड़कर विधानसभा की ओर बढ़ने लगे. हालांकि पुलिस ने समय रहते छात्रों को रोक लिया।

Jharkhand planning policy 2023