Breaking :
||चतरा में चार बदमाश हथियार के साथ गिरफ्तार||‘स्वच्छता ही सेवा, एक तारीख-एक घंटा श्रमदान’ कार्यक्रम में राज्यपाल ने कहा- स्वस्थ समाज के लिए स्वच्छ वातावरण आवश्यक||झारखंड में 6 अक्टूबर तक होगी भारी बारिश, कुछ जिलों के लिए येलो तो कुछ के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे बाबूलाल, कहा- भाजपा की सरकार बनी तो छह महीने में भरे जायेंगे सभी रिक्त पद||पलामू: किशोर के साथ अप्राकृतिक दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार, जेल||पलामू: अनियमितता बरतने के आरोप में चार राशन डीलरों के लाइसेंस निलंबित||पूर्वी सिंहभूम बना डेंगू और रांची चिकनगुनिया का हॉटस्पॉट, जानिये किस जिले में अब तक मिले कितने मरीज||जड़ से खत्म कर दिया जायेगा झारखंड से नक्सलवाद : राज्यपाल||लातेहार: स्कूलों में शिक्षकों की कमी के खिलाफ मनिका में छात्रों व अभिभावकों ने किया प्रदर्शन||झारखंड में 15 सीओ की ट्रांसफर-पोस्टिंग, अधिसूचना जारी
Monday, October 2, 2023
BIG BREAKING - बड़ी खबरउत्तरी छोटानागपुरझारखंड

धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

धनबाद का न्यूज

धनबाद : शनिवार की सुबह धनबाद के लिए एक दुखद खबर लेकर आयी। शहर के मशहूर हाजरा क्लीनिक में लगी भीषण आग में इस अस्पताल के डॉक्टर दंपती समेत पांच लोगों की मौत हो गयी है, जबकि एक घायल है।

घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया है। बताया जा रहा है कि दम घुटने से सभी की मौत हुई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार बैंक मोड़ थाना क्षेत्र के टेलीफोन एक्सचेंज रोड स्थित शहर के बहुचर्चित हाजरा क्लीनिक एवं अस्पताल में देर रात करीब एक बजे आग लग गयी। इसमें डॉक्टर विकास हाजरा व उनकी पत्नी डॉ प्रेमा हाजरा, उनकी नौकरानी तारा देवी, डॉक्टर के भतीजे सहित पांच लोगों की मौत हो गयी। जबकि एक व्यक्ति आग लगने से घायल बताया जा रहा है।

घटना की सूचना पर पुलिस और दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची। आग की विकरालता देख दमकल विभाग के कर्मियों ने आग पर काबू पाने के लिए आठ दमकल गाड़ियों को लगाया, लेकिन जब तक दमकल विभाग की टीम आग पर काबू पाती तब तक डॉक्टर दंपत्ति समेत यहां मौजूद पांच लोगों की मौत हो चुकी थी।

धुएं से दम घुटने से मौत

बताया जा रहा है कि डॉक्टर दंपती का आवास भी अस्पताल परिसर में ही था। अस्पताल और निवास के बीच एक गलियारा है। जिससे अस्पताल और निवास तक पहुंचने में इसका उपयोग होता है। जानकारी के मुताबिक आग इसी कॉरिडोर में लगी थी जो डॉक्टर दंपती के आवास तक फैल गयी। आग लगने से यहां काफी धुआं उठने लगा और इस धुएं के कारण दम घुटने से सभी की मौत हो गयी।

समय रहते मरीजों को किया रेस्क्यू

जानकारी के मुताबिक, कॉरिडोर से अस्पताल में दाखिल होने का रास्ता बंद था। उस स्थान पर एक दरवाजा था। अचानक तेज आवाज हुई, जिसके बाद पता चला कि अस्पताल की दूसरी मंजिल पर आग लगी है। जानकारी के मुताबिक अस्पताल के स्टोर में आग लगने से आग चारों ओर फैल गयी। इसके बाद अस्पताल स्थित उनके आवास पर अन्य रिश्तेदारों के अलावा उनकी मेड और कर्मी भी मौजूद थे, जिनकी आग में जलकर मौत हो गयी। वहीं इस हादसे के दौरान यहां अस्पताल में मौजूद सभी मरीज सुरक्षित हैं और उन्हें कोई नुकसान नहीं हुआ है।

धनबाद का न्यूज