Breaking :
||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप||लातेहार में 23 फ़रवरी को लगेगा रोजगार मेला, विभिन्न पदों पर होगी बंम्पर भर्ती||अब सात मार्च तक न्यायिक हिरासत में रहेंगे पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन||पलामू में 16 वर्षीय किशोर का मिला शव, हत्या की आशंका, सड़क जाम
Saturday, February 24, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरउत्तरी छोटानागपुरझारखंड

धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

धनबाद का न्यूज

धनबाद : शनिवार की सुबह धनबाद के लिए एक दुखद खबर लेकर आयी। शहर के मशहूर हाजरा क्लीनिक में लगी भीषण आग में इस अस्पताल के डॉक्टर दंपती समेत पांच लोगों की मौत हो गयी है, जबकि एक घायल है।

घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया है। बताया जा रहा है कि दम घुटने से सभी की मौत हुई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार बैंक मोड़ थाना क्षेत्र के टेलीफोन एक्सचेंज रोड स्थित शहर के बहुचर्चित हाजरा क्लीनिक एवं अस्पताल में देर रात करीब एक बजे आग लग गयी। इसमें डॉक्टर विकास हाजरा व उनकी पत्नी डॉ प्रेमा हाजरा, उनकी नौकरानी तारा देवी, डॉक्टर के भतीजे सहित पांच लोगों की मौत हो गयी। जबकि एक व्यक्ति आग लगने से घायल बताया जा रहा है।

घटना की सूचना पर पुलिस और दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची। आग की विकरालता देख दमकल विभाग के कर्मियों ने आग पर काबू पाने के लिए आठ दमकल गाड़ियों को लगाया, लेकिन जब तक दमकल विभाग की टीम आग पर काबू पाती तब तक डॉक्टर दंपत्ति समेत यहां मौजूद पांच लोगों की मौत हो चुकी थी।

धुएं से दम घुटने से मौत

बताया जा रहा है कि डॉक्टर दंपती का आवास भी अस्पताल परिसर में ही था। अस्पताल और निवास के बीच एक गलियारा है। जिससे अस्पताल और निवास तक पहुंचने में इसका उपयोग होता है। जानकारी के मुताबिक आग इसी कॉरिडोर में लगी थी जो डॉक्टर दंपती के आवास तक फैल गयी। आग लगने से यहां काफी धुआं उठने लगा और इस धुएं के कारण दम घुटने से सभी की मौत हो गयी।

समय रहते मरीजों को किया रेस्क्यू

जानकारी के मुताबिक, कॉरिडोर से अस्पताल में दाखिल होने का रास्ता बंद था। उस स्थान पर एक दरवाजा था। अचानक तेज आवाज हुई, जिसके बाद पता चला कि अस्पताल की दूसरी मंजिल पर आग लगी है। जानकारी के मुताबिक अस्पताल के स्टोर में आग लगने से आग चारों ओर फैल गयी। इसके बाद अस्पताल स्थित उनके आवास पर अन्य रिश्तेदारों के अलावा उनकी मेड और कर्मी भी मौजूद थे, जिनकी आग में जलकर मौत हो गयी। वहीं इस हादसे के दौरान यहां अस्पताल में मौजूद सभी मरीज सुरक्षित हैं और उन्हें कोई नुकसान नहीं हुआ है।

धनबाद का न्यूज