Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

लातेहार: व्यवहार न्यायालय का घेराव कर रहे टाना भगतों का उग्र प्रदर्शन, पथराव में थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मी घायल, लाठी चार्ज

लातेहार : व्यवहार न्यायालय का घेराव के दौरान टाना भगतों ने उग्र प्रदर्शन किया है। टाना भगत के पथराव में लातेहार सदर थाना के पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मी घायल हो गये। इस दौरान टाना भगतों ने पुलिस पीसीआर वाहन को भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

घायल पुलिसकर्मियों में पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता, कांस्टेबल सत्यनारायण उरांव, कुमारी अमित लक्ष्मी, अंजू रोज खलखो और मनोरमा कुमारी शामिल हैं। बताया जाता है कि पुलिस की लाठी चार्ज में कई टाना भगत भी घायल हुए हैं।

बाद में प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किये और आंसू गैस के गोले दागे। इस दौरान पुलिस ने वाटर कैनन भी बरसाए। पथराव की सूचना पर एसपी अंजनी अंजन भी मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया।

टाना भगत के प्रदर्शन के दौरान कोर्ट परिसर में मौजूद सभी न्यायिक अधिकारियों को पीछे के रास्ते से बाहर निकाला गया। इसके साथ ही न्यायिक अधिकारियों की आवास सुरक्षा की व्यवस्था को भी बढ़ा दिया गया है। इस दौरान करीब पांच घंटे तक न्यायिक कार्य बाधित रहा।

आपको बता दें कि अखिल भारतीय टाना भगत संघ के तत्वावधान में टाना भगतों ने सोमवार को लातेहार जिला मुख्यालय स्थित व्यवहार न्यायालय का घेराव किया। इस दौरान टाना भगत ने पांचवी अनुसूची के तहत कोर्ट रूम बंद करने का नारा लगाया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मौके पर परमेश्वर टाना भगत ने कहा कि आंदोलन निरंतर जारी रहेगा। सरकारी अधिकारी संविधान की अनदेखी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब तक हमारी मांगें नहीं मानी जाती तब तक सभी कार्यालय बंद रहेंगे।