Breaking :
||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

रांची: शिवालिक होटल में बाप-बेटे की हत्या के मामले का खुलासा, होने वाला दामाद ही निकला हत्यारा

रांची : चुटिया थाना क्षेत्र के स्टेशन रोड स्थित होटल शिवालिक में रविवार को बाप-बेटे की हत्या का पुलिस ने 24 घंटे के अंदर खुलासा कर दिया है। पुलिस ने इस दोहरे हत्याकांड में शामिल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

प्रेसवार्ता में जानकारी देते हुए एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया कि रविवार देर शाम सूचना मिली कि होटल शिवालिक में ठहरे बाप-बेटे नागेश्वर मेहता 55 वर्ष व अभिषेक मेहता 24 वर्ष की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गयी है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने के लिए एसएसपी व एसपी के नेतृत्व में विशेष जांच दल का गठन किया गया था। जांच दाल ने त्वरित वैज्ञानिक शोध की शुरुआत की। जांच के दौरान फोरेंसिक टीम ने मौके का मुआयना किया और अहम सबूत जुटाए। विशेष जांच दल द्वारा वैज्ञानिक अनुसंधान से एकत्रित साक्ष्यों के आधार पर मृतक के दामाद चंदन कुमार से गहन पूछताछ के 24 घंटे के भीतर घटना का खुलासा हुआ।

चंदन कुमार ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली और उसकी निशानदेही पर हत्या में इस्तेमाल किया गया बड़ा चाकू, हत्या के समय पहना हुआ खून से लथपथ कपड़ा और हत्या से पहले दोनों मृतकों को दिया गया नशा बरामद किया गया।

उन्होंने बताया कि घटना का कारण आरोपी चंदन कुमार ने बताया कि चंदन कुमार और मृतक नागेश्वर मेहता की बेटी नागेश्वर मेहता के बीच करीब दो साल से संबंध थे। जिससे शादी से पहले मृतक चंदन कुमार से मकान बनवाने के लिए जमीन लेने के नाम पर पैसे की मांग कर रहा था और ब्लैकमेल किया जा रहा था. जिसके बाद 8 जुलाई की शाम को चंदन कुमार ने शिवालिक होटल में कमरा बुक कर दोनों को एक जगह रख दिया। अगले दिन 10 जुलाई को गमछा देने के बहाने करीब 10:00 बजे होटल पहुंचकर दोनों मृतकों को पानी में नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इसके बाद फिर दोपहर 12:00 बजे के बाद दुकान से चाकू खरीद कर चाकू से के साथ होटल पहुंचा और अचेत अवस्था में ही दोनों की गला रेत कर हत्या कर दी। काफी देर तक होटल में रुकने के बाद चंदन कुमार सोची समझी चाल के तहत होटल लौटा और इस घटना पर नाटक करते हुए शोर मचाने लगा। उसी ने 100 डायल कर पुलिस को सूचना दिया व मनगढ़ंत कहानी बनाकर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की गई।

लेकिन विशेष शोध दल द्वारा किए गए वैज्ञानिक और पुरुष अनुसंधान के कारण उनकी झूठी कहानी का पर्दाफाश हुआ और इस सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा हुआ।