Breaking :
||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश||पलामू: हार्डकोर इनामी माओवादी नीतेश के दस्ते का सक्रिय सदस्य गिरफ्तार||लातेहार: 65 हेली ड्रॉपिंग बूथ के लिए शुभकामनायें लेकर मतदान कर्मी रवाना||KIDZEE लातेहार के बच्चों ने मतदाताओं से की अपील- पहले मतदान, फिर कोई काम||पलामू में शौच के लिए निकली नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म, चार आरोपी गिरफ्तार||लातेहार अनुमंडल क्षेत्र में चुनाव के मद्देनजर चार जून तक धारा 144 लागू
Sunday, May 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

रांची: राजधानी के एक होटल में बाप-बेटे की चाकू मारकर हत्या, पुलिस कर रही छानबीन

रांची : राजधानी रांची के होटल शिवालिक में पिता-पुत्र की चाकू मारकर हत्या कर दी गई है। घटना चुटिया थाना क्षेत्र स्थित सरकारी बस स्टैंड के बगल में स्थित शिवालिक होटल की है। जहां अज्ञात अपराधियों ने होटल में ठहरे पिता-पुत्र की चाकू मारकर हत्या कर दी। मृतक हजारीबाग के इचक के रहने वाले बताए जा रहे हैं।

घटना की सूचना मिलते ही सिटी एसपी, सिटी डीएसपी और फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। मृतकों की पहचान नागेश्वर महतो और उनके बेटे अभिषेक महतो के रूप में हुई है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी मिल रही है कि मृतक अभिषेक नशे के धंधे से जुड़ा था। वह आपराधिक प्रकृति का भी बताया जाता है। फुलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार इचक निवासी पिता-पुत्र ने नौ जुलाई को सुबह नौ बजे होटल शिवालिक में कमरा बुक कराया था। जिसके बाद 10 जुलाई को दोनों की हत्या कर दी गई थी। होटल कर्मचारी की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

हजारीबाग के इचाक निवासी नागेश्वर महतो की बेटी की शादी पत्थलगड़वा में तय हुई थी। इसके लिए नागेश्वर महतो अपने बेटे को लेकर रांची आए थे। भावी दामाद ने उसे नौ जुलाई को होटल शिवालिक में रहने के लिए कमरा नंबर 201 बुक कराया था और नागेश्वर महतो अपने बेटे के साथ रह रहा था। इसी बीच शाम चार बजे जब उसका भावी दामाद कुछ सामान लेकर होटल पहुंचा तो उसने दोनों को मृत देखा। जिसके बाद होटल स्टाफ को इसकी जानकारी दी गई।