Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: महिला मरीज की मौत पर भड़के परिजन, डॉक्टर पर लगाया गलत ऑपरेशन का आरोप, अस्पताल में तोड़फोड़, सड़क जाम

पलामू : मेदिनीनगर सदर थाना क्षेत्र के चियांकी मिशन मोड़ पर सोमवार की शाम द्वारका जी हॉस्पिटल में एक महिला मरीज की मौत पर जमकर हंगामा हुआ। इस दौरान अस्पताल में तोड़फोड़ की गयी। बीच-बचाव करने गयी पुलिस से भी लोग उलझ गये। एनएच-75 को जाम कर दिया गया है।

हंगामे की सूचना मिलने पर सदर एसडीओ अनुराग कुमार तिवारी, डीएसपी सुरजीत कुमार, सदर सीओ अमरदीप सिंह बल्होत्रा के अलावा शहर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझाने का प्रयास कर रही है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बताया जाता है कि दो दिन पहले शनिवार को चियांकी क्षेत्र की रूपा देवी नामक महिला का अस्पताल में प्रसव के दौरान ऑपरेशन किया गया था। आरोप है कि डॉ. कादिर परवेज ने गलत ऑपरेशन किया, जिससे महिला का पेट फूल गया। उसे तुरंत इलाज के लिए रांची ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान सोमवार की शाम उसकी मौत हो गयी। यहां यह भी बता दें कि शनिवार को भी हालत बिगड़ने पर परिजनों ने अस्पताल में हंगामा किया था।

इधर, मौत की सूचना मिलते ही परिजन उग्र हो गये और बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों के साथ अस्पताल पहुंच गये और हंगामा करने लगे। जानकारी मिली है कि इस दौरान अस्पताल में तोड़फोड़ भी की गयी। अस्पताल प्रबंधन और स्टाफ के साथ मारपीट की गयी। हंगामे के कारण लोग अस्पताल छोड़कर भाग गये हैं।

सूचना मिलने पर शहर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन लोग पुलिसकर्मियों से भी उलझ गये। मौके पर सीपीआई के जिला सचिव रुचिर तिवारी ने आरोप लगाते हुए सिविल सर्जन से अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने और अस्पताल को सील करने की मांग की।

Palamu Latest News Today