Breaking :
||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला||पलामू: तत्कालीन एसपी के फर्जी हस्ताक्षर से बने 12 चरित्र प्रमाण पत्र, बड़ा गिरोह सक्रिय||ED की टीम फिर पहुंची आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के नौकर जहांगीर के घर||झारखंड: ज्वैलर्स शोरूम से दो लाख रुपये नकद समेत 50 लाख के आभूषण की लूट||निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत||लातेहार: चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने वाले 9 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत||जेठानी ने देवरानी पर लगाये गंभीर आरोप, कहा- कल्पना सोरेन के इशारे पर मेरी दोनों बेटियों को मारने की थी कोशिश||गढ़वा: JJMP जोनल कमांडर के नाम पर पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी को धमकी||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में फिर मारे गये सात नक्सली
Saturday, May 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: महिला मरीज की मौत पर भड़के परिजन, डॉक्टर पर लगाया गलत ऑपरेशन का आरोप, अस्पताल में तोड़फोड़, सड़क जाम

पलामू : मेदिनीनगर सदर थाना क्षेत्र के चियांकी मिशन मोड़ पर सोमवार की शाम द्वारका जी हॉस्पिटल में एक महिला मरीज की मौत पर जमकर हंगामा हुआ। इस दौरान अस्पताल में तोड़फोड़ की गयी। बीच-बचाव करने गयी पुलिस से भी लोग उलझ गये। एनएच-75 को जाम कर दिया गया है।

हंगामे की सूचना मिलने पर सदर एसडीओ अनुराग कुमार तिवारी, डीएसपी सुरजीत कुमार, सदर सीओ अमरदीप सिंह बल्होत्रा के अलावा शहर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझाने का प्रयास कर रही है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बताया जाता है कि दो दिन पहले शनिवार को चियांकी क्षेत्र की रूपा देवी नामक महिला का अस्पताल में प्रसव के दौरान ऑपरेशन किया गया था। आरोप है कि डॉ. कादिर परवेज ने गलत ऑपरेशन किया, जिससे महिला का पेट फूल गया। उसे तुरंत इलाज के लिए रांची ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान सोमवार की शाम उसकी मौत हो गयी। यहां यह भी बता दें कि शनिवार को भी हालत बिगड़ने पर परिजनों ने अस्पताल में हंगामा किया था।

इधर, मौत की सूचना मिलते ही परिजन उग्र हो गये और बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों के साथ अस्पताल पहुंच गये और हंगामा करने लगे। जानकारी मिली है कि इस दौरान अस्पताल में तोड़फोड़ भी की गयी। अस्पताल प्रबंधन और स्टाफ के साथ मारपीट की गयी। हंगामे के कारण लोग अस्पताल छोड़कर भाग गये हैं।

सूचना मिलने पर शहर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन लोग पुलिसकर्मियों से भी उलझ गये। मौके पर सीपीआई के जिला सचिव रुचिर तिवारी ने आरोप लगाते हुए सिविल सर्जन से अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने और अस्पताल को सील करने की मांग की।

Palamu Latest News Today