Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

लोहरदगा-लातेहार जिले के सीमावर्ती जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़!

Lohardaga naxal news

गोपी कुमार सिंह/लातेहार

लोहरदगा: पेशरार थाना क्षेत्र के बुलबुल जंगल में पिछले 6 दिनों से नक्सलियों के खिलाफ तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. इस बीच लोहरदगा-लातेहार जिले के सीमावर्ती जंगल में मंगलवार को पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई है। दोनों ओर से सैकड़ों राउंड फायरिंग की गई। हालांकि पुलिस को भारी पड़ते देख नक्सली भागने में सफल रहे। इस मुठभेड़ की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

गौरतलब है कि पिछले छह दिनों से चल रहे नक्सल विरोधी अभियान के दौरान मुठभेड़ की यह चौथी घटना है। बताया जा रहा है कि चारों तरफ से सुरक्षाबलों से घिरे नक्सली भागने की कोशिश कर रहे थे। इस बीच मुठभेड़ की यह घटना लोहरदगा-लातेहार जिले की सीमा पर नारायणपुर जंगल में हुई। लेकिन इस फायरिंग के बाद नक्सली वापस बुलबुल के जंगल की ओर भागने को मजबूर हो गए।

सीआरपीएफ, झारखंड जगुआर और जिला पुलिस बल के करीब 450 जवान जंगलों में नक्सलियों की तलाश में लगे हैं। नक्सलियों को पुलिस ने घेर लिया है ताकि वे बुलबुल के जंगल से भागकर लातेहार या गुमला की सीमा की ओर न जा सकें। पुलिस को तलाशी अभियान में भी सफलता मिली है।

कभी नक्सलियों का गढ़ माने जाने वाले पेशरार इलाके में नक्सली कमजोर हो गए थे। हाल के महीनों में नक्सली एक बार फिर सिर उठाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन पुलिस की सक्रियता से उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Lohardaga naxal news

https://thenewssense.in/category/latehar

https://www.facebook.com/newssenselatehar


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *