Breaking :
||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर 62.13 फीसदी वोटिंग, सबसे अधिक जमशेदपुर, सबसे कम रांची में मतदान||झारखंड में कल से दिखेगा चक्रवाती तूफान ‘रेमल’ का असर, लातेहार, गढ़वा, पलामू व चतरा जिले में भी असर||लातेहार: दुकान में चोरी करने आये तीन चोर आग में झुलसे, एक की मौत, दो गंभीर||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला||पलामू: तत्कालीन एसपी के फर्जी हस्ताक्षर से बने 12 चरित्र प्रमाण पत्र, बड़ा गिरोह सक्रिय||ED की टीम फिर पहुंची आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के नौकर जहांगीर के घर||झारखंड: ज्वैलर्स शोरूम से दो लाख रुपये नकद समेत 50 लाख के आभूषण की लूट||निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत||लातेहार: चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने वाले 9 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत
Sunday, May 26, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडलोहरदगा

लोहरदगा: झुंड से बिछड़े हाथी ने ली पांच लोगों की जान, मरने वालों में 3 पुरुष और 2 महिला शामिल

लोहरदगा : जिले के भंडरा लड़ाई टंगरा गांव में सोमवार को झुंड से बिछड़े हाथी ने पांच लोगों को कुचलकर मार डाला। मरने वालों में 3 पुरुष और 2 महिला शामिल हैं। इसमें लालमन महतो (60), नेहा कुमारी (18), झालो उरांव (27) और गणेश उरांव का नाम शामिल है। जबकि एक महिला की पहचान नहीं हो सकी है।

घटना के संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि हाथी अहले सुबह करीब पांच बजे के आसपास गांव में पहुंचा। सुबह में कुहासा होने के कारण विजिबिलिटी कम थी, जिसके कारण हाथी लोगों को नजर नहीं आ रहा था। हाथी द्वारा लोगों को कुचले जाने के क्रम में हाथी के चिघाड़ने की आवाज को समझ पाते तब तक हाथी तीन लोगों को मौत के घाट उतार चुका था। सुबह में गांव के लोग नित्य क्रिया के लिए घरों से बाहर निकले थे।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार हाथी जहां पर अड्डा बनाए हुए हैं ।उसके अगल-बगल ग्रामीण आ जा रहे हैं। इसी क्रम में गणेश उरांव नशे की हालत में हाथी के नजदीक चला गया था। इसी क्रम में हाथी उसे पटक कर कुचल दिया। घायल स्थिति में वन विभाग के कर्मियों के द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भंडारा के डॉक्टरों ने चिकित्सा कर उसके जान बचाने की प्रयास की और रिम्स रांची रेफर करने की तैयारी की जा रही थी। इसी क्रम में गणेश उरांव की मौत हो गई।

पुलिस एवं वन कर्मियों के लगातार प्रयास के बाद भी स्थानीय ग्रामीण हाथी के आसपास जाने से परहेज नहीं कर रहे हैं। इसका नतीजा गणेश उरांव की जान चली गई। वन विभाग के द्वारा ध्वनि विस्तारक यंत्र से भी लोगों को हाथी के नजदीक नहीं जाने की प्रचार प्रसार किया जा रहा है। फिर भी ग्रामीण सरकारी आदेशों का उल्लंघन करते हुए हाथी के आसपास मंडरा रहे हैं।

वन विभाग ने दी सलाह

जंगली हाथियों के आगमन की सूचना पर हाथियों से सुरक्षित दूरी बनाकर रखें।

सेल्फी या फोटोग्राफी का कतई प्रयास नहीं करें।

हाथी के आगमन की सूचना वन विभागीय पदाधिकारियों एवं संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल अधिकारी या थाना प्रभारी को दें।

वन विभाग के पदाधिकारियों से प्राप्त निर्देश का अनुपालन करें।

वन प्रमंडल पदाधिकारी, लोहरदगा के नंबर 8294935789 पर संपर्क करें।

लोहरदगा हाथी का न्यूज