Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरउत्तरी छोटानागपुरझारखंड

ओवैसी की सभा में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे पर चुनाव आयोग गंभीर, बढ़ सकती हैं मुश्किलें!

गिरिडीह : गिरिडीह के डुमरी में असदुद्दीन ओवैसी की चुनावी सभा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। चुनाव आयोग ने इसे गंभीरता से लिया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से गिरिडीह जिला प्रशासन से इस संबंध में मांगी गयी रिपोर्ट दी जा चुकी है। गिरिडीह जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त ने इस चुनावी सभा की वीडियो रिकॉर्डिंग की कॉपी के साथ संबंधित एफआईआर भी मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को उपलब्ध करा दिया है। गिरिडीह जिला प्रशासन द्वारा इसकी जांच शुरू कर दी गयी है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को जो वीडियो क्लिपिंग्स उपलब्ध कराए गए हैं, उसमें नारेबाजी की बात सामने आ रही है। जिससे प्रतीत होता है कि एआईएमआईएम के सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी एवं डुमरी विधानसभा उपचुनाव लड़ रहे अब्दुल मोबिन रिजवी की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं।

गुरुवार को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के. रवि कुमार ने कहा कि चुनावी सभा के दौरान आयोग की ओर से भी वीडियोग्राफी की जाती है। इस सभा की भी वीडियोग्राफी हुई थी। आयोग द्वारा इस संबंध में अग्रतर कार्रवाई की जायेगी।

गौरतलब है कि बुधवार को गिरिडीह के डुमरी स्थित केबी हाई स्कूल मैदान में ओवैसी की चुनावी सभा हुई थी, जिसमें पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाये जाने की बातें सोशल मीडिया में आने लगी थीं। इसके बाद जिला प्रशासन हरकत में आयी और आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज करते हुए चुनाव आयोग के निर्देश पर जांच की जा रही है।

दिवंगत शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो के निधन से खाली हुए डुमरी विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव पांच सितंबर को होगा, जिसको लेकर एक तरफ जहां चुनाव प्रचार जोरों पर है, वहीं दूसरी ओर जिला प्रशासन के द्वारा व्यापक तैयारियां की गयी हैं। कुल 373 मतदान केंद्रों में से अधिकांश मतदान केंद्र एवं उसके आसपास के क्षेत्र को संवेदनशील मानते हुए चुनाव आयोग ने मतदान के दिन एवं उससे पहले केंद्रीय बलों के साथ-साथ राज्य पुलिस के जवानों को तैनात करने का निर्णय लिया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के. रवि कुमार ने कहा कि डुमरी विधानसभा क्षेत्र में बोकारो और गिरीडीह जिला प्रशासन के द्वारा नजर रखी जा रही है। चुनाव के दौरान धन बल को रोकने के लिए जिलास्तर पर टास्क फोर्स भी गठित की गयी है।

Owaisi meeting Pakistan Zindabad slogan