Breaking :
||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली

गैंगेस्टर अमन श्रीवास्तव गैंग का शूटर राजू शर्मा बिहार से गिरफ्तार

रामगढ़ : बिहार की राजधानी पटना से रामगढ़ पुलिस और एटीएस झारखंड की संयुक्त टीम ने अमन श्रीवास्तव गिरोह के शूटर और विभिन्न मामलों में फरार अपराधियों कुमार शिवेंद्र उर्फ ​​शिव शर्मा और उर्फ ​​राजू शर्मा को गिरफ्तार किया है। राजू शर्मा अमन श्रीवास्तव गिरोह का मुख्य शूटर है। इसके खिलाफ झारखंड और बिहार में कुल 9 मामले दर्ज हैं। गुरुवार को एसपी पीयूष पांडे ने एसपी कार्यालय के सभागार में प्रेस वार्ता कर गिरफ्तारी की जानकारी दी।

एसपी श्री पाण्डेय ने बताया कि रामगढ़ एसडीपीओ किशोर रजक के नेतृत्व में टीम गठित कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है। टीम में एटीएस झारखंड के अधिकारी और जवान भी शामिल थे। जानकारी के अनुसार बिहार की राजधानी पटना में संभावित स्थानों पर जांच की गयी और एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ में शख्स ने अपना नाम शिव शर्मा उर्फ ​​कुमार शिवेंद्र उर्फ ​​राजू शर्मा (पिता अमन कुमार ईश्वर, ग्राम शिवरी, थाना चिरिया बरियारपुर, मंझौल ओपी, जिला बेगूसराय, बिहार) बताया. इसके साथ ही उसने खुद को अमन श्रीवास्तव गैंग का शूटर बताया। राजू शर्मा ने मांडू (पश्चिम बोकारो ओपी) थाना पतरातू थाने के विभिन्न मामलों में अपनी संलिप्तता स्वीकार की।

उसने रामगढ़, पतरातू, खलारी आदि क्षेत्रों में अमन श्रीवास्तव गिरोह के लिए कई आपराधिक घटनाओं में शामिल होने की बात भी स्वीकार की। एसपी पीयूष पांडे ने कहा कि मांडू थाना पश्चिम बोकारो ओपी पतरातू थाना में राजू शर्मा के खिलाफ कुल नौ मामले दर्ज हैं. लालपुर (रांची), घोसी थाना (बिहार), कोतवाली थाना (रांची), रामगढ़ थाना, बसल थाना, बैंक मोड़ (धनबाद) अभिलेखित हैं। गिरफ्तार अपराधी के पास से तीन मोबाइल और दो एटीएम वीजा कार्ड बरामद हुए हैं।

राजू शर्मा ने कई मामलों में शामिल होने के अलावा तीन हत्याओं में शामिल होने की बात स्वीकार की है। एसपी पीयूष पांडे ने बताया कि राजू शर्मा ने गया कोर्ट परिसर में राजा सिंह, बेगूसराय (बिहार) में दिलीप गुप्ता और पलामू के पांकी में जीतू गुप्ता की हत्या की थी। तीनों की हत्या राजू शर्मा ने की थी। वह पांडेय गैंग के लिए काम करता था।

कहा जाता है कि राजा सिंह हजारीबाग कोर्ट में सुशील श्रीवास्तव की हत्या में शामिल था। इसलिए जवाबी कार्रवाई में कोर्ट परिसर में ही उसकी हत्या कर दी गयी।

छापेमारी टीम में एसडीपीओ किशोर कुमार रजक, मांडू अंचल के पुलिस निरीक्षक संजय कुमार गुप्ता, निरीक्षक नवीन कुमार, अनीश खान, कार्तिक करमाली और एटीएस रांची के अधिकारी व पुलिस कर्मी शामिल थे।