Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

खनन मामले में झारखंड सीएम हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा से ईडी ने की पूछताछ

रांची : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा मंगलवार को रांची में ईडी के क्षेत्रीय कार्यालय पहुंचे। पंकज मिश्रा से ईडी के अधिकारियों द्वारा संताल परगना में पत्थर खनन और गंगा नदी के माध्यम से अवैध परिवहन से संबंधित मुद्दे पर पूछताछ किए जाने की संभावना है। पंकज मिश्रा मंगलवार सुबह करीब 11 बजे रांची के एयरपोर्ट रोड स्थित ईडी कार्यालय पहुंचे। सफेद शर्ट पहनकर ईडी कार्यालय पहुंचे पंकज मिश्रा पूरी तरह से स्वस्थ लग रहे थे और कार्यालय के अंदर पहुंचने से पहले उनके चेहरे पर मुस्कान थी। वह अपने साथ बैग में कुछ कागजात लेकर ईडी कार्यालय भी पहुंचे हैं।

इससे पहले पंकज मिश्रा को ईडी ने 12 जुलाई और फिर 15 जुलाई को पूछताछ के लिए तलब किया था, लेकिन स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए पूछताछ के लिए ईडी कार्यालय नहीं पहुंच सके। पंकज मिश्रा को 11 जुलाई की रात साहिबगंज के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, बाद में वह इलाज के लिए आसनसोल के एक अस्पताल में गए। अवैध खनन से जुड़े इस मामले में ईडी की टीम पंकज मिश्रा के करीबी दाहू यादव से भी तीन दिन से पूछताछ कर रही है। इसके अलावा ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े इस मामले में बच्चू यादव और निमाई सिल से भी पूछताछ की है।

ईडी ने अवैध खनन मामले में पंकज मिश्रा और उनके सहयोगियों के 37 बैंक खातों से 11.88 करोड़ रुपये नकद जमा किए हैं। इससे पहले 8 जुलाई को ईडी ने साहिबगंज, बरहेट, राजमहल, मिर्जा चौकी और बरहरवा में 19 जगहों पर छापेमारी की थी और कई दस्तावेजों के साथ 5.34 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी जब्त की थी। इस तलाशी के दौरान एक जगह से पांच अवैध बंदूकें और कारतूस भी बरामद किए गए।