Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

खनन मामले में झारखंड सीएम हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा से ईडी ने की पूछताछ

रांची : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा मंगलवार को रांची में ईडी के क्षेत्रीय कार्यालय पहुंचे। पंकज मिश्रा से ईडी के अधिकारियों द्वारा संताल परगना में पत्थर खनन और गंगा नदी के माध्यम से अवैध परिवहन से संबंधित मुद्दे पर पूछताछ किए जाने की संभावना है। पंकज मिश्रा मंगलवार सुबह करीब 11 बजे रांची के एयरपोर्ट रोड स्थित ईडी कार्यालय पहुंचे। सफेद शर्ट पहनकर ईडी कार्यालय पहुंचे पंकज मिश्रा पूरी तरह से स्वस्थ लग रहे थे और कार्यालय के अंदर पहुंचने से पहले उनके चेहरे पर मुस्कान थी। वह अपने साथ बैग में कुछ कागजात लेकर ईडी कार्यालय भी पहुंचे हैं।

इससे पहले पंकज मिश्रा को ईडी ने 12 जुलाई और फिर 15 जुलाई को पूछताछ के लिए तलब किया था, लेकिन स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए पूछताछ के लिए ईडी कार्यालय नहीं पहुंच सके। पंकज मिश्रा को 11 जुलाई की रात साहिबगंज के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, बाद में वह इलाज के लिए आसनसोल के एक अस्पताल में गए। अवैध खनन से जुड़े इस मामले में ईडी की टीम पंकज मिश्रा के करीबी दाहू यादव से भी तीन दिन से पूछताछ कर रही है। इसके अलावा ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े इस मामले में बच्चू यादव और निमाई सिल से भी पूछताछ की है।

ईडी ने अवैध खनन मामले में पंकज मिश्रा और उनके सहयोगियों के 37 बैंक खातों से 11.88 करोड़ रुपये नकद जमा किए हैं। इससे पहले 8 जुलाई को ईडी ने साहिबगंज, बरहेट, राजमहल, मिर्जा चौकी और बरहरवा में 19 जगहों पर छापेमारी की थी और कई दस्तावेजों के साथ 5.34 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी जब्त की थी। इस तलाशी के दौरान एक जगह से पांच अवैध बंदूकें और कारतूस भी बरामद किए गए।