Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

ED के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से सात घंटे तक की पूछताछ, सीएम ने कहा- हम न कभी झुके हैं और न कभी झुकेंगे

रांची : ईडी के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से लंबी पूछताछ की। करीब सात घंटे की पूछताछ के बाद ईडी की टीम मुख्यमंत्री आवास से बाहर निकली। ईडी ने मुख्यमंत्री से बड़गाई इलाके में डीएवी बरियातू के पीछे स्थित 8.46 एकड़ जमीन के संबंध में पूछताछ की है। मुख्यमंत्री से उनके और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा अर्जित संपत्ति के बारे में भी सवाल किया गया। मुख्यमंत्री ने इसकी जानकारी ईडी को दे दी है। अब ईडी इसका मिलान करेगी। इस मामले में ईडी एक बार फिर सीएम से पूछताछ करेगी।

गौरतलब है कि ईडी की टीम मुख्यमंत्री से पूछताछ करने के लिए दिन में 1:06 बजे कांके रोड स्थित मुख्यमंत्री आवास पहुंची थी। मुख्यमंत्री से पूछताछ शुरू होने के करीब साढ़े तीन घंटे बाद शाम साढ़े चार बजे दोबारा ईडी की टीम पहुंची। ईडी के अधिकारी फाइल में कई दस्तावेज लेकर पहुंचे थे।

इधर, ईडी अधिकारियों के जाने के बाद सीएम हेमंत सोरेन एलपीएन सहदेव चौक पहुंचे। यहां उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा, मैंने ईडी के सवालों का जवाब दे दिया है। उन्होंने कार्यकर्ताओं के साहस को भी सलाम किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं ईडी के सवालों से नहीं डरता। मैंने कोई चोरी नहीं की है।

सीएम ने कहा कि झारखंड का इतिहास संघर्षों का रहा है। हम न कभी झुके हैं और न कभी झुकेंगे। अगर गोली खाने की जरूरत पड़ी तो आपके नेता के तौर पर हम सबसे पहले गोली खाएंगे। हम कभी नहीं झुकेंगे। कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सीएम हाउस लौट आये।

ED interrogates CM Hemant