Breaking :
||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली

ED ने सीएम हेमंत सोरेन से करीब 10 घंटे तक की पूछताछ, पत्नी के साथ दफ्तर से निकले बाहर

रांची: अवैध खनन मामले में गुरुवार को ईडी कार्यालय पहुंचे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से ईडी के अधिकारियों ने करीब 10 घंटे तक पूछताछ की। रात 09.45 बजे सीएम सोरेन अपनी पत्नी कल्पना सोरेन के साथ ईडी कार्यालय से निकले और सीधे सीएम आवास पहुंचे। देर रात उनकी पत्नी कल्पना सोरेन भी ईडी दफ्तर पहुंचीं।

बता दें कि मुख्यमंत्री दिन में 12:05 बजे ईडी कार्यालय पहुंचे थे। उसके बाद केंद्रीय जांच एजेंसी के दफ्तर का गेट बंद कर दिया गया। इसके बाद से लगातार पूछताछ की जा रही थी।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस दौरान ज्वाइंट डायरेक्टर रैंक के अधिकारियों ने पूछताछ की। पूछताछ के दौरान ईडी दफ्तर को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया था। अवैध खनन मामले में ईडी की मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से पूछताछ जारी रह सकती है। मुख्यमंत्री से पूछताछ के लिए 100 सवालों की लिस्ट तैयार की गयी है। इसके लिए बकायदा दिल्ली से अफसरों की टीम रांची पहुंची है। इन सवालों में 1000 करोड़ के अवैध खनन का मामला। मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े सवाल शामिल हैं। साथ ही उनके विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा के घर से मिले दस्तावेजों के संबंध में भी सवाल किए गए।

सीएम सोरेन ने ईडी दफ्तर जाने के पूर्व मीडिया को संबोधित किया। इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी सरकार गिराने की साजिश रची जा रही है।